Mirzapur : मानक के विपरीत बन रहा है जंगीरोड़-राजापुर संपर्क मार्ग


रिपोर्ट : तपेश विश्वकर्मा

मिर्ज़ापुर, (उ0प्र0) : वर्षों से उपेक्षा का दंश झेल रहे जिला मुख्यालय से सटे सीटी ब्लाक के राजापुर से बैरहवा चौराहा जंगीरोड़ संपर्क मार्ग के दिन काफ़ी प्रयास के बाद सुधरे तो अब मानक के विपरीत निर्माण किया जा रहा है। जिसका ग्रामीणों द्वारा भारी आपत्ति जताई जा रही हैं। सड़क निर्माण को देखकर यह महसूस किया जा रहा है कि मानक को अनदेखा कर मनमानी तरीके से कार्य कराया जा रहा है। इससे यह प्रतीत होता है की कही न कही से कार्यदायी संस्था/व्यक्ति के ऊपर विभाग जरूर मेहरबान होंगा।

एक तरफ देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भ्रष्टाचार के खिलाफ मुहिम चलाये हुए है, किंतु पी०डब्ल्यू०डी० के ऊपर कोई असर ही नही पड़ रहा है। ग्रामीण बताते है कि पी०डब्लू०डी के सहायक अभियंता से टेलीफोन पर शिकायत किया गया तो उनके द्वारा कहा जा रहा है कि इसी प्रकार से रोड.बनेगा। पी०डब्ल्यू०डी० के अधिशासी अभियंता को कई बार फोन से सम्पर्क करने का प्रयास किया गया लेकिन उनके द्वारा काल रिसीव नही किया गया।

ग्रामीण के अनुसार इस मार्ग से गोपालपुर, राजापुर, रानीवारी, वरईपुर व चिन्तावनपुर सहित कई गांव के लोगों का प्रतिदिन आना-जाना लगा रहता है। राजापुर के ग्राम प्रधान विनोद कुमार सिंह पटेल का कहना है कि लगभग पन्द्रह वर्षो के बाद यह बन रहा है, उसके उपरांत भी मानक के अनुरूप सड़क का निर्माण नही कराया जा रहा है। हम चाहते हैं कि इस सड़क की क्वालिटी में सुधार किया जाना चाहिए।

गोपालपुर के ग्राम प्रधान लालचंद मोर्या ने रिपोर्टर को निर्माणाधीन सड़क की गुणवत्ता दिखाते हुए कहा कि निर्माण कार्य मे मानक को अनदेखा किया जा रहा है। जब हल्के से प्रयास के बाद गिट्टी उखड़ जा रही है तो भला यह कितने दिन चल पायेगा। जहां पानी रूकता था उसका भी ध्यान नही दिया गया ऐसे में चन्द दिन चल पाना सम्भव नही लगता। स्ठानीय ग्रामीण इन्द्र प्रकाश पटेल, दिलीप सिंह पटेल, फतेह बहादुर दुबे, अरुण दुबे, मंगल दुबे, अंशू दुबे सहित तमाम लोगों ने उपस्थित होकर निर्माण कार्य की गुणवत्ता को देखते हुए काम रोकने को कहा साथ ही वरिष्ठ अधिकारियों से अनुरोध किया है कि सड़क निर्माण की गुणवत्ता का खुद निरीक्षण कर मानक के अनुरूप कार्य कराने के लिये सम्बन्धित विभाग को निर्देशित करें

Comments