समाजसेवी रामप्रसाद अग्रहरी के नाम से खोला जायेगा अस्पताल : डा. आकाश


रिपोर्ट : चंदन अग्रहरी

मिर्जापुर, (उ.प्र.) : हलिया क्षेत्र के चहुमुखी विकास के लिए संकल्पित राम प्रसाद अग्रहरी की अंतिम सांस 15 जुलाई 2021 को लिए जाने की सूचना पर सिर्फ हलिया क्षेत्र के लोग ही नहीं बल्कि समूचा जनपद स्तब्ध रहा। जनपद के जाने-माने सभी राजनीतिक दलों के कद्दावर नेताओं के द्वारा राम प्रसाद अग्रहरी के आवास पर पहुंचकर भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करने के पश्चात दिवंगत राम प्रसाद अग्रहरि के परिजनों का हौसला अफजाई किया गया। इलाके के लोग भगवान की तरह उनको मानते थे । ग्रामीणों ने बताया कि जब भी ग्रामीण अपनी समस्या लेकर राम प्रसाद अग्रहरी के पास जाते थे, तो उनकी समस्या का निवारण तो होता ही था और साथ ही में उनके यहां जाने से लोग सम्मान में वृद्धि भी महसूस करते थे।


स्वर्गीय रामप्रसाद अग्रहरी के पुत्र ने मीडिया से बात करते हुए बताया कि रामप्रसाद की सेवा व ईमानदारी के उसूल को हमेशा कायम रखा जाएगा एवं उनकी विचारधारा को मजबूती के साथ आगे बढ़ाया जाएगा। इलाके के संभ्रांत लोगों ने बताया कि समाज की सेवा करते करते दिवंगत रामप्रसाद अग्रहरी के परिवार के सदस्यों की लोकप्रियता इतनी बढ़ गई कि चुनाव में पिछले कई वर्षों से निरंतर विजयी होकर जनता की सेवा पूरी ईमानदारी और निष्ठा से कर रहे हैं। 27 जुलाई को उनके आवास पर हुए तेरही के कार्यक्रम के दौरान जनपद के कई विशिष्ट व संभ्रांत लोगों ने पहुंचकर उन्हें श्रद्धा सुमन अर्पित किया। दिवंगत रामप्रसाद की लोकप्रियता का अंदाजा इससे भी लगाया जा सकता है कि सभी राजनीतिक दलों के बड़े नेताओं और जनप्रतिनिधियों की मौजूदगी देखी गई। श्रद्धा सुमन अर्पित करने वालों में मुख्य रूप से छानबे विधायक राहुल प्रकाश कोल, पूर्व विधायक भगवती चौधरी, समाजवादी पार्टी के जिला अध्यक्ष देवी प्रसाद चौधरी, जिला पंचायत अध्यक्ष राजू कनौजिया, विनीत सिंह के प्रतिनिधि मुनेश सिंह, पूर्व MLC विनीत सिंह, पूर्व मंत्री मनीराम कोल, बीजेपी नेता सुधीर सिंह के अलावा दर्जनों की संख्या ग्राम प्रधान जिला पंचायत सदस्य व विशिष्ट जनों की उपस्थिति देखी गई।

Comments