Mumbai : ‘काव्य सलिल’ काव्य संग्रह का विश्व पर्यावरण दिवस पर विमोचन और सम्मान पत्र वितरण समारोह आयोजित

मुंबई : इंकलाब पब्लिकेशन हाउस के तत्वावधान में इंकलाब साहित्यिक सांस्कृतिक सामाजिक मंच द्वारा कोरोना काल में तमाम विषम परिस्थितियों के बीच ऑनलाइन ई-बुक ‘काव्य सलिल’ काव्य संग्रह का भव्य लोकार्पण समारोह 5 जून को दोपहर 12 बजे विश्व पर्यावरण दिवस पर ऑनलाईन आयोजित किया गया। जिसमें हिन्दी साहित्य से प्रेम करने वाले देश-विदेश के मनीषियों, सुधिजनों, शिक्षाविदों, एवं हिंदी साहित्य के उत्थान में जी जान से जुटे रचनाकारों ने भारी संख्या में अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए इंकलाब साहित्यिक सांस्कृतिक सामाजिक मंच परिवार का उत्साह वर्धन किया। इंकलाब पब्लिकेशन हाउस और इंकलाब मंच के अध्यक्ष रमाकांत यादव (सागर जख्मी) के धैर्य, साहस और शत्तिफ़ की जितनी भी सराहना की जाए कम होगी।

ज्ञात रहे की अभी पिछले हफ्रते ही उनके प्रिय दादी मां का स्वर्गवास हो गया है। वावजूद इसके पूर्व निर्धारित लोकार्पण कार्यक्रम को न टालते हुए इंकलाब साहित्यिक सांस्कृतिक सामाजिक मंच परिवार को उत्साहित कर अपने असीम धैर्य और संयम का परिचय दिया। ई-बुक का लोकार्पण अध्यक्ष रमाकांत यादव (सागर जख्मी), मंचस्थ पदाधिकारियों व रचनाकारों की ऑनलाईन उपस्थिति में पिंकी सिंघल ने दीप प्रज्जवलित कर मां सरस्वती जी की वंदना करने के उपरांत किया।

शिक्षाविद पिंकी सिंघल द्वारा संकलित काव्य सलिल काव्य संग्रह में स्थान प्राप्त कर ‘काव्य सलिल सम्मान’ पत्र से विभूषित किये जाने वाले रचनाकारों में मुंबई महाराष्ट्र से प्रकाशित होने वाले दैनिक हिन्दी समाचार पत्र पहला समाचार के वरिष्ठ पत्रकार, व दि ग्राम टुडे दैनिक अखबार समूह (उत्तराखंड देहरादून, मध्यप्रदेश, उत्तर प्रदेश छत्तीसगढ़ और बिहार) से एक साथ प्रकाशित अऽबार के मुंबई महाराष्ट्र राज्य समाचार ब्यूरो प्रमुख वरिष्ठ पत्रकार, कवि, साहित्यकार सुरेन्द्र दुबे (अनुज जौनपुरी), रचनाविनोद, रामशरण सेठ, गणपत लाल उदय, डॉ- महेश कुमार ‘व्हाइट’, कुसुम लता, श्रीकांत तैलंग, डॉ- विनय कुमार श्रीवास्तव, डॉ- सुषमा तिवारी, नेतलाल प्रसाद यादव, अमित तिवारी ‘आजाद’, सुरेश लाल श्रीवास्तव, विकास कुमार ‘लाभ’, श्याम सिंह, रितेश कुमार, रामभरोस टोण्डे, श्वेता ‘कर्ण’, विजयशंकर यादव, रवींद्र कुमार ‘पागल’, डॉ- सरला सिंह ‘स्निग्धा’, सोनू सीताराम ‘धानुक’, रामकरण साहू ‘सजल’, आशीष कुमार ‘महासागर’, उमाकांत त्रिपाठी ‘निश्छल’, डॉ- रानी गुप्ता, डॉ- राकेश सिंह रावत, अमित कुमार बौद्ध, मनोरमा सिंह ‘माया’, अंजू भूटानी, देवेन्द्र प्रताप वर्मा ‘विनीत’, राजीव रंजन ‘विश्वास’, डॉ- माध्वी बोरसे, चन्दा देवी स्वर्णकार, मनोज कुमार चतुर्वेदी, चंचल हृदय पाठक, राजीव चौहान, प्रमोद ठाकुर, शैलेश कुमार यादव, करुणा जायसवाल, सुजीत पाल, बलराम कुमार सिंह, डॉ- मीरा चौरसिया, मनीष कुमार मिश्रा, शिवदत्त डोंगरें, मनोज कुमार मिश्र, भीम कुमार, जय तिवारी, निर्णय कुमार ‘निर्णय’, ज्ञानेश्वर आनंद ‘ज्ञानेश’, रामेश्वर प्रसाद शुक्ल, रश्मि पाण्डेय, इंदु जेठवानी, तुलसी ‘विश्वास’, जी-एस- मिश्रा, एडवोकेट, गंगाधर नरसिंगराव चेपूरवार ‘सोनू’, श्वेता मिश्रा, दिवाकर पाण्डेय, अविनाश ब्यौहार, डॉ- अनुज कुमार ‘अनुज’, रामेश्वर ठाकुर श्वृन्दास, बृजेश राय, ज्ञानेश्वर ज्ञान, मिन्हाज सुगरा, शैलेन्द्र सरोज, प्रभात गौर, डॉ- सतीश चंदाना, डी-ए-प्रकाश खाण्डे, सुरेश धमोरा इत्यादि प्रतिभाशाली रचनाकारों ने इंकलाब प्रकाशन एवं साहित्यिक मंच द्वारा ‘काव्य सलिल’ हिंदी साहित्य सम्मान प्राप्त कर स्वयं को गौरवान्वित महसूस किया।

विश्व पर्यावरण दिवस के खास मौके पर आयोजित समारोह में इंकलाब साहित्यिक सांस्कृतिक सामाजिक मंच परिवार के सदस्यों एवं पदाधिकारियों ने एक पेड़ लगाने व उसे पोषित करने का संकल्प दोहराया और देश के समस्त नागरिकों से एक पेड़ लगाने की अपील मंच के माध्यम से की। प्रमुख संपादक रमाकांत यादव व शिक्षाविद पिंकी सिंघल के द्वारा संकलित काव्य सलिल काव्य संग्रह संकलन का संपादन कार्य अद्वितीय रहा जिसकी प्रशंसा प्रमुख समीक्षक, शिक्षाविद एवं मार्गदर्शक डॉ-शिवधनी पाण्डेय गुरु जी, वरिष्ठ सहयोगी व समीक्षक डॉ- विनय कुमार श्रीवास्तव जी ने कार्यक्रम समापन समारोह में की। इंकलाब मंच के वरिष्ठ मीडिया प्रभारी रविन्द्र त्रिपाठी, व सुरेन्द्र दुबे (अनुज जौनपुरी) ने लोकार्पण समारोह में शामिल सभी आदरणीयजनों रचनाकारों एवं साहित्य प्रेमियों का हृदय से आभार व्यत्तफ़ किया। पिंकी सिंघल ने कार्यक्रम संचालन की जिम्मेदारी बखूबी निभाते हुए ई-बुक लोकार्पण से लेकर सम्मान-पत्र वितरण के अंतिम क्षणों तक अपनी मीठी वाणी से सबको सम्मोहन में बांधे रखा।

Comments