पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी के लिए केंद्र नहीं राज्य सरकार जिम्मेदार : भवानजी


मुंबई :
मुंबई के पूर्व उपमहापौर बाबू भाई  भवानजी ने कहा है कि  पेट्रोल  के दामों में बढ़ोत्तरी के मुद्दे पर महाराष्ट्र की महाविकास आघाड़ी के नेता  जनता को मूर्ख बना रहे हैं । उन्होंने कहाकि पेट्रोल के दामों में बढ़ोत्तरी के लिए केंद्र नहीं राज्य सरकार जिम्मेदार हैं।

आज एक बयान में भवानजी ने कहाकि राज्य के हर पेट्रोल पम्प पर एक बोर्ड लगाया जाना चाहिए, जिसमें  पेट्रोल की कीमत का पूरा ब्यौरा दिया गया हो। तब जाकर महाराष्ट्र सरकार के चेहरे से नकाब हट  जायेगा।

उन्होंने कहाकि अगर पेट्रोल की कीमत ९२ रुपये ५ पैसे है तो इसकी मूल दर ३० रुपये ५० पैसे होती है। इसमें केंद्र सरकार का कर १६ रुपये ५० पैसे है जबकि राज्य सरकार का कर ३८ रुपये ५५ पैसे है। वितरण करने वाले का हिस्सा ६ रुपये ५० पैसे होता है।  इस प्रकार  ग्राहकों से कुल  ९२ रुपये ५ पैसे लिए जाते हैं। 

इस प्रकार का बोर्ड यदि पेट्रोल पम्पों पर लग जायेगा तो जनता को मालूम हो जायेगा कि ज्यादा कर केंद्र ले रहा है या राज्य। इस मुद्दे पर आंदोलन करके महाविकास आघाडी में शामिल दल जनता को मूर्ख बना रहे हैं।  

भवानजी ने कहाकि यदि राज्य सरकार  में शामिल दल  जनता को सस्ते में पेट्रोल देना चाहते  हैं तो उन्हें अपना हिस्से वाला  ३८ रुपये ५५ पैसे छोड़ देना चाहिए। तब जाकर पेट्रोल का मूल्य ३८ रुपये कम हो जायेगा। अगर वे अपना कर आधा भी कर दें तो जनता को सा १९ रुपये सस्ता पेट्रोल मिलने लगेगा। 

Comments