डीजल चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश

 रिपोर्ट : प्रमोद कुमार

औरंगाबाद  : जिले के कन्नड में पुलिस ने डीजल चोरी करने वाले गिरोह का पर्दाफाश किया है। पु‎लिस ने 14 लोगों को गिरफ्तार किया है। पु‎लिस के एक अधिकारी ने यह जानकारी दी। उन्होंने बताया ‎कि 17 फरवरी को चलाये गये अभियान के दौरान चार ट्रक, डीजल से भरे 40 कंटेनर, नकदी एवं अन्य सामान जब्त किया गया। जब्त डीजल की कुल कीमत 98 लाख रुपये बताई जा रही है। इस संदर्भ में जिले की पुलिस अधीक्षक (एसपी) मोक्षदा पाटिल ने कहा ‎कि जिले में चिकलथाना पुलिस थाना में 16 फरवरी को दर्ज शिकायत के आधार पर यह कार्रवाई की गयी। शिकायत में चितेगांव में एक पेट्रोल पंप से 3,480 लीटर डीजल की चोरी की बात कही गयी है। एसपी ने बताया कि स्थानीय अपराध शाखा को यह सूचना मिली थी कि मामले में महाराष्ट्र के उस्मानाबाद जिले से एक गिरोह शामिल है। गुप्त सूचना के आधार पर पुलिस ने राष्ट्रीय राजमार्ग पर कन्नड़ के शिवराई इलाके में जांच चौकी बनायी थी। पाटिल ने बताया गिरोह के सदस्य रात में विभिन्न पेट्रोल पंपों पर रुकते थे और हैंड पंप की मदद से भूमिगत टैंकों से डीजल चुरा लेते थे। निजी इस्तेमाल के लिए रखने के बाद वे शेष डीजल अन्य ट्रक ड्राइवरों को सस्ती दर में बेच देते थे। एसपी ने बताया कि गुजरात से आने वाले वाहनों की जांच के दौरान ऐसे तीन ट्रक पकड़े गये और डीजल से भरे 40 कंटेनर जब्त किये गये। ट्रक में मौजूद 12 लोगों को भी गिरफ्तार कर लिया गया है। कन्नड़ में पकड़े गये ट्रक ड्राइवर ने पुलिस को बताया कि जाल्टा फाटा में पेट्रोल पंप से डीजल खरीदने के लिए ऐसा ही एक अन्य वाहन खड़ा है, जिसके बाद उस वाहन को भी जब्त कर लिया गया। पु‎लिस ने बताया ‎कि दो और लोगों को गिरफ्तार किया गया, ‎जिन्होंने पूछताछ के दौरान स्वीकार किया कि उन्होंने चितेगांव में पेट्रोल पंप से डीजल चोरी की थी। आरोपी उस्मानाबाद जिले के रहने वाले हैं और वे पिछले पांच साल से डीजल चोरी की वारदात में शामिल हैं।

Comments