बीएसएनएल की यप्पटीवी के साथ साझेदारी

 ~ 'यप्प टीवी स्कोप प्लेटफॉर्म' लॉन्च करने के लिए आए साथ ~

मुंबई : एक प्रमुख वैश्विक ओटीटी प्लेटफॉर्म यप्पटीवी ने एक नए युग के टेक-इनेबल्ड सिंगल सब्स्क्रिप्शन वीडियो स्ट्रीमिंग प्लेटफॉर्म यप्पटीवी स्कोप को लॉन्च करने के लिए भारत संचार निगम लिमिटेड के साथ साझेदारी की है। ब्रॉडबैंड ग्राहकों को बंडल प्ले ऑफर के रूप में बंडल ओटीटी सेवाओं की पेशकश करने के लिए बीएसएनएल के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर करने के बाद, यप्पटीवी अब बीएसएनएल ब्रॉडबैंड यूजर्स के लिए सम्मोहक वीडियो सेवाएं शुरू कर रहा है।

इस तरह की अनूठी सेवा देने के लिए दुनिया में पहला प्लेटफॉर्म होने के नाते यप्पटीवी स्कोप यूजर्स को सभी प्रीमियम ओटीटी ऐप जैसे सोनीलिव, जी5, वूट सिलेक्ट और यप्प टीवी-लाइव टीवी चैनलों के एग्रीगेटर के लिए सिंगल सब्स्क्रिप्शन प्रदान करता है और अलग-अलग एक्सेस करने के उबाऊ काम और कई ऐप्स के प्रबंधन से छुटकारा देता है। जनसांख्यिकी के आधार पर बीएसएनएल के विशाल दर्शकों के बेस को देखते हुए यह प्लेटफॉर्म सभी यूजर्स को टेक-सैवी और लीगेसी केबल टीवी यूजर्स को एक ऐसा प्लेटफॉर्म उपलब्ध करताा है जो उन्हें केबल टीवी से जुड़ने का पारंपरिक टीवी जैसा अनुभव प्रदान करता है।उन्हें लाइव टीवी चैनलों को सहज तरीके से स्विच करने की अनुमति देता है।

यप्पटीवी के संस्थापक और सीईओ उदय रेड्डी ने कहा, “बीएसएनएल के साथ साझेदारी में हमारे सिंगल सब्स्क्रिप्शन ओटीटी प्लेटफॉर्म यप्पटीवी स्कोप के लॉन्च की घोषणा करते हुए हमें खुशी हो रही है। इस लॉन्च के साथ हम सभी प्रमुख हितधारकों के लिए एक समग्र इकोसिस्टम बनाने के लिए प्रमुख सामग्री भागीदारों, प्रसारकों, दूरसंचार, और ब्रॉडबैंड प्रदाताओं के अभिसरण को सक्षम कर रहे हैं। यह एक तकनीकी रूप से एडवांस, सभी शामिल मंच का उपयोग करके यूनिक और सीमलेस वीडियो मनोरंजन अनुभव है। यह पहले बीएसएनएल ग्राहकों को पेश किया जाएगा। हम जल्द ही प्लेटफ़ॉर्म पर और ऐप्स जोड़ेंगे।”

Comments
Popular posts
सीएम उद्धव ठाकरे ने पूरे राज्य के लोगो को अगले 8 दिन सतर्क रहने को कहा है--वरना लॉक डाउन लगाने के संकेत भी दे दिए है
Image
आपसी विवाद में युवक घायल, मामला रफा-दफा करने मे जुटी थी पुलिस
Image
दादरा और नगर हवेली से लोकसभा सदस्य मोहन डेलकर मुंबई के एक होटल में पाए गए मृत, गुजराती में लिखा सुसाइड नोट बरामद
Image
बाल विकास विभाग की कारगर योजनाओं से ही कुपोषण से मिला मुक्ति, 2668 केन्द्रों पर पौष्टिक आहार के लिए बच्चों, महिलाओं व किशोरियों में आ रही जागरूकता
Image
महाराष्ट्र से कर्नाटक आने वालों को बिना कोरोना रिपोर्ट देखे एंट्री की गई बन्द !
Image