Mirzapur : खस्ता हाल सड़क पर चलना हुआ दुश्वार, जनप्रतिनिधियों व अधिकारियों का दरवाजा खटखटा कर हताश हो चुके हैं लोग

 रिपोर्ट : बृजेश गोंड

मीरजापुर, (उ0प्र0) : बैरहवां चौराहा जंगी रोड से गोपालपुर, राजापुर, रानीबारी, बरईपुर, चिंतावनपुर व बनकट को जोड़ने मुख्य मार्ग विगत कई वर्षों से बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो चुका हैं। मार्ग पर लबालब गंदा पानी व कीचड़ के जमाव के कारण आये दिन दुर्घटनाएं होती रहती हैं, जिसको लेकर कई बार नागरिकों द्वारा नाली व सड़क के निर्माण हेतु आवाज उठाई गयी किंतु अब तक इस पर ध्यान न देने से यहां बाशिन्दों का जीवन दुश्वार हो गया है।

सड़क की खस्ता हालत के चलते गोपालपुर, राजापुर, रानीबारी, बरईपुर, चिंतावनपुर व बनकट के लोग अत्यंत परेशान है। इसके चलते इलाके के लोगों ने मंगलवार को जनप्रतिनिधियों के खिलाफ इकट्ठा होकर जमकर नारेबाजी की और विरोध प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन में क्षेत्रीय लोगों का आरोप है कि लगभग 10 वर्षों से खराब सड़क के चलते इलाके के लोग बहुत परेशान हैं। जब भी लोगों को गांव से शहर आना होता है तो उनके माथे पर पसीना होता है, दिल में घबराहट होती है, जान जोखिम में होता है और हाथ पैर टूटने का डर हर वक्त बना रहता है।

स्थानीय लोगों का आरोप है कि कई बार जनप्रतिनिधियों से इस बाबत मांग रखी गई। मुख्यमंत्री हेल्प लाईन से लेकर ऐसा कोई भी जन प्रतिनिधि या अधिकारी नही होगा जिसका दरवाजा न खटखटाया गया हो, लेकिन आज तक समस्या का समाधान नहीं हो सका है। यहा तक कि गत लोक सभा चुनाव में स्थानीय लोगों ने चुनाव का बहिष्कार तक कर दिया था। मीडिया के माध्यम से जब इस बात की जानकारी तत्कालीन डीएम को हुई तो उन्होंने चुनाव बाद आवश्यक कार्यवाही की बात कह लोगों से चुनाव मे भाग लेने की अपील की तो लोग मान गये। चुनाव बीत गया, डीएम साहब का यहां से तबादला हो गया, सुनील कुमार पटेल डीएम बनकर आये वह भी 14 महीने तक रहे, पर इस सड़क की हालत सुधरने की जगह और भी बिगड़ती चली गई।

बताना आवश्यक होगा कि ग्राम पंचायत चुनाव की सरगर्मी शुरू हुई तो समाजसेवी अभिषेक दुबे उर्फ पंकज ने जब इलाके का दौरा किया तब स्थानीय लोगों ने उनके सामने समस्या रखी। अपना आक्रोश दिखाते हुए  क्षेत्रवासियों ने कहा कि इलाके के लोग तब तक मतदान नहीं करेंगे जब तक हमारी समस्याओं का समाधान नहीं हो जाता है। ऐसे में समाजसेवी अभिषेक दुबे उर्फ पंकज ने इलाके के लोगों को भरोसा जताया कि एक बार वह भरोसा करें वह उनकी इस समस्या को जिलाधिकारी के संज्ञान तक पहुंचाने का काम करेंगे ताकि क्षेत्र की समस्या का समाधान हो सके और लोगों के लिए आने जाने का सुगम रास्ता सुलभ हो सके। बताया गया है कि अभिषेक दुबे उर्फ पंकज वार्ड नंबर 3 सिटी ब्लॉक ग्राम गोपालपुर राजापुर से जिला पंचायत सदस्य प्रत्याशी के रूप में चुनाव मैदान में आने वाले है। उन्होंने क्षेत्र के विकास और रोड की समस्या को अपना मुद्दा बनाया है और इसी मुद्दे के दम पर क्षेत्र के लोगों का दिल जीतना चाहते हैं।

5 जनवरी 21 को गोपालपुर ग्राम स्थित स्थानीय निवासी दिनेश मिश्रा के मकान पर आयोजित पत्रकार वार्ता के दौरान अभिषेक दुबे पंकज ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि इलाके के लोगों ने उनसे बड़ी उम्मीदें लगा रखी है। लोगों ने शिकायत की है कि नेता आते हैं और कोरा वादा करके चले जाते हैं, इसलिए वह इस बार मतदान में हिस्सा नहीं लेंगे। लेकिन अभिषेक दुबे उर्फ पंकज के आश्वासन से क्षेत्रीय लोगों का भरोसा जागा है। स्थानीय लोगों के अनुसार जो सड़क बहुत खराब हालत में है वह नगर पालिका क्षेत्र में आता है। यहां यह बताना आवश्यक होगा कि यह मार्ग नगर व मंझवा विधानसभा दोनों क्षेत्र में आता है। दोनों क्षेत्रों के जन प्रतिनिधि की उपेक्षा का यह जीता जागता उदाहरण है।

भारतीय स्वतन्त्र पंच पार्टी के जिला सचिव भोलेनाथ गुप्ता ने नगर पालिका अध्यक्ष मनोज़ जायसवाल पर अनदेखा करने का आरोप लगाते हुए बताया कि मुख्य मार्ग की जो दुर्दशा है सो है ही चन्द्रदीपा से आरआर पब्लिक स्कूल होते हुए गोपालपुर राजापुर सम्पर्क मार्ग पर चार पहिया वाहन को छोड़कर अन्य साधनों से पहुंचा जा सकता है। इस रास्ते पर भी जगह-जगह नाली का चैंबर बीच रोड पर खुली होने की वजह राहगीरों को काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। उनका आरोप है कि इस रास्ते का भी विगत कई वर्षों से यही हाल है, नगर पालिका के द्वारा भी अब तक कोई ठोस कदम इस ओर नहीं उठाया जा गया है।

प्रेसवार्ता के दौरान मुख्य रूप से स्वर्ण समाज जिला अध्यक्ष शैल अग्रहरि, दिनेश मिश्रा, राजकुमार सिंह, दिलीप कुमार, शेषमणि दुबे, कृष्ण मुरारी, बृजेश दुबे सहित तमाम स्थानीय लोग मौजूद रहे।

Comments