सह शहर अभियंता रामदास तांबे को मनपा आयुक्त का झटका

जलापूर्ति विभाग का पदभार निकाला ; प्रवीण लड़कत नये प्रभारी

रिपोर्ट : प्रमोद कुमार

पिंपरी : हमेशा जनप्रतिनिधियों और सामाजिक संस्था-संगठनों के निशाने पर रहे पिंपरी चिंचवड मनपा जलापूर्ति विभाग के सहशहर अभियंता रामदास तांबे को मनपा आयुक्त श्रावण हर्डिकर ने जोरदार झटका दिया है। तांबे के पास से जलापूर्ति विभाग का पदभार निकाल लिया गया है। जलापूर्ति विभाग का अतिरिक्त पदभार कार्यकारी अभियंता प्रविण लडकत को सौंपा गया है। मनपा आयुक्त के इस फैसले से मनपा गलियारों में खलबली मच गई है।

रामदास तांबे गत कई सालों से जलापूर्ति विभाग में कुंडली मारे बैठे हैं। इतने सालों से जलापूर्ति विभाग में रहने के बाद भी शहर में जलापूर्ति का नियोजन करने में वे विफल साबित रहे हैं। बीते सालभर से शहरवासियों को एक दिन छोड़कर पानी की आपूर्ति की जा रही है। तांबे लगातार जनप्रतिनिधियों और सामाजिक संस्था- संगठनों से उलझते रहे हैं। नतीजन वे लगातार विवादों से घिरे रहे हैं। इसके अलावा 24 घँटे जलापूर्ति की अमृत योजना, बिल्डरों को एनओसी प्रकरण, भासा-आसखेड, आंद्रा परियोजना, पवना पाइपलाइन योजना के अलावा जलापूर्ति की देखभाल-दुरुस्ती और संचालन संबन्धी कामों में लगातार आरोप लगते रहे, शिकायते मिलती रही हैं।

गत डेढ़ साल से शहर की जलापूर्ति व्यवस्था चरमराई हुई है। लोगों को एक दिन छोड़कर पानी मिल रहा है वह भी अपर्याप्त दबाव से। बजाय इसके नियोजन के विभागप्रमुख के नाते तांबे केवल ठेकेदारों के हितों के जतन और विवादों में उलझते रहे हैं। मनपा की स्थायी समिति से लेकर सर्वसाधारण सभा तक में तांबे पर सर्वदलीय नगरसेवकों ने निशाना साधा है। इन तमाम पृष्ठभूमि पर मनपा आयुक्त श्रावण हार्डिकर ने तांबे के पास से जलापूर्ति विभाग का पदभार निकालकर कार्यकारी अभियंता प्रवीण लड़कत को प्रभारी बनाया है। ताँबे को पर्यावरण और जलनि:सारण विभाग का कामकाज सौंपा गया है।
Comments