कॉलोनी तोड़ने का महिलाओं ने किया विरोध

रिपोर्ट : प्रमोद कुमार

कल्याण : मोहने स्थित एनआरसी कालोनी में घरों को अडानी समूह ने पुलिस और चार जेसीबी की सहायता से कॉलोनी को तोड़ने का काम शुरू ही किया था कि कॉलोनी की महिलाओं ने इसका पुरजोर विरोध किया। जिसके बाद स्थानीय पुलिस ने उन पर लाठीचार्ज कर दिया। इस मामले में खड़गपाड़ा पुलिस ने दो महिला सहित छह लोगों को हिरासत में लिया है। एक महीना पहले भी एनआरसी कॉलोनी के घरों को तोड़ने का काम शुरू किया गया था,लेकिन वहां के लोगों द्वारा पुरजोर विरोध करने पर तोड़क कार्रवाई रोक दी गई। बुधवार सुबह खड़गपाड़ा पुलिस के साथ चार जेसीबी मशीन की सहायता से तोड़क कार्रवाई की गई । वहां रह रहे लोगों ने जब इसका विरोध किया तो पुलिस ने बर्बरता दिखाते हुए उनपर लाठी चार्ज कर दिया।वहीं पुलिस का कहना है कि हम लोग किसी पर लाठी चार्ज नहीं किए हैं। सिर्फ कानून व्यवस्था बनाए रखने के लिए पुलिस बल तैनात किया गया था। बतादें कि एनसीएलईटी दिल्ली न्यायलय मजदूर वर्ग आयटक यूनियन की याचिका पर आज 21 जनवरी को सुनवाई होना है। सुनवाई के एक दिन पहले ही अडानी समूह ने पुलिस का सहारा लेकर कॉलोनी पर तोड़क कार्रवाई किया जिससे लोगों में रोष व्याप्त है। कॉलोनी के रहने वाले लोग पुलिस से सिर्फ यह पूछ रहे थे कि आपके पास कॉलोनी तोड़ने के लिए न्यायालय का लिखित आदेश है क्या? यदि आदेश है तो हम सब यहाँ से तुरंत चले जाएंगे लेकिन पुलिस ने लोगों की बात नहीं सुनी। इसलिए लोगों ने रास्ता रोको आंदोलन किया।
Comments