स्मार्ट शहरों के वीडिओ कांफ्रेंसिंग के माध्यम से जायजा

रिपोर्ट : प्रमोद कुमार

औरंगाबाद : महाराष्ट्र के नगर विकास मंत्री एकनाथ शिंदे की उपस्थिति में महाराष्ट्र के सभी स्मार्ट शहरों के वीडिओ कांफ्रेंसिंग  के माध्यम से  जायजा बैठक ली गई। बैठक में राज्य के 8 स्मार्ट शहरों के मुख्य कार्यकारी अधिकारी के अलावा स्मार्ट सिटीज मिशन के संचालक कुणाल कुमार प्रमुख रूप से उपस्थित थे। बैठक में औरंगाबाद स्मार्ट सिटी के सीईओ आस्तिक कुमार पांडेय, डिप्टी सीईओ पुष्कल शिवम भी उपस्थित थे। नगर विकास मंत्री ने कहा कि पुणे  और ठाणे  की तर्ज पर अन्य शहरों ने स्मार्ट सिटी प्रकल्पों के लिए राजस्व पाने के लिए व्यावसायिक के लिए से महानगरपालिका  के न इस्तेमाल किए जमीन का उपयोग करें। औरंगाबाद स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट  के सीईओ आस्तिक कुमार पांडेय ने कहा कि नागरी केन्द्रीय प्रकल्प सहित कई प्रकल्प प्रगति पथ पर है। ऐतिहासिक स्थलों का विकास, शहर के ऐतिहासिक दरवाजों में प्रकाश योजना एवं लैंड स्केपिंग, बस डिपो का निर्माण कार्य, आधुनिक बस स्थानकों का निर्माण, सफारी पार्क, ई गर्वन्नस, नागरिकों के लिए सडके आदि प्रकल्प नयी  पहचान कराकर देनेवाले साबित होंगे। साथ ही औरंगाबाद शहर का रैकिंग बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण साबित होंगे। नगर विकास मंत्री शिंदे ने कहा कि राज्य के स्मार्ट सिटीज के रैकिंग का ग्राफ राष्ट्रीय स्तर पर ऊपर आना चाहिए। राष्ट्रीय स्तर पर पुणे 15वें स्थान  पर और औरंगाबाद 51वें क्रमांक पर हैं। वहीं, कल्याण-डोंबिवली 68 क्रमांक पर है। रैकिंग की कमी पर विचार करने पर काम होता हैं, परंतु, निधि के  उपलब्धता की कमी है।


Comments