औरंगाबाद के विकास के लिए प्रशासन तैयार है : आस्तिक कुमार पांडेय

रिपोर्ट : प्रमोद कुमार

औरंगाबाद : सड़क, पानी, कचरा व्यवस्थापन तथा स्ट्रीट लाइट जैसे मूलभूत सुविधाओं पर काम करने से पूर्व शहर के आगामी स्तर पर नागरी हलचल, पर्यावरण का पालन पोषण तथा इंटरटेनमेंट इस क्षेत्र में विकास का विचार करना चाहिए। भविष्य का विचार कर औरंगाबाद  के विकास के लिए प्रशासन तैयार है। यह जानकारी  मनपा प्रशासक आस्तिक कुमार पांडेय  ने यहां दी। औरंगाबाद फर्स्ट, मराठवाडा एनवायरमेंट केयर क्लस्टर के पहल से शहर के  यातायात व्यवस्थापन पर चर्चा करने के लिए एक बैठक का आयोजन किया गया था। बैठक में अपने विचार व्यक्त करते हुए पांडेय ने यह जानकारी दी।

जिलाधिकारी सुनील चव्हाण, औरंगाबाद स्मार्ट सिटी डेवलपमेंट कार्पोरेशन यानी एएससीडीसीएल के डिप्टी सीईओ पुष्कल शिवम, शहर अभियंता सखाराम पानझडे, कार्यकारी अभियंता हेमंत कोल्हे, उपायुक्त नंदकिशोर भोंबे, पीडब्ल्यूडी  के अभियंता दिलीप उकरिडे, महावितरण के मुख्य अभियंता भुजंग खंदारे, अधीक्षक अभियंता बिभिषण निर्मल, एमआईडीसी के क्षेत्रीय अधिकारी राजेश जोशी, नरसिंह भांडे, औरंगाबाद फर्स्ट के अध्यक्ष प्रीतिश चटर्जी, बागला ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज के संचालक ऋषि बागला, राजेश चंचलानी, विवेक भोसले, धीरज देशमुख, हेमंत लांडगे उपस्थित थे।

प्रशासक पांडेय ने बताया  कि मनपा ने गत 1 साल में 100 करोड़  रुपए के सडकों का काम पूरा किया। अब 152 करोड़ रुपए के सडक प्रकल्प पर काम जारी है। शहर के मुख्य मार्ग वाले सडकों का काम  इस प्रकल्प के अंतर्गत जारी है। एएससीडीसीएल ने मास्टर सिस्टम इंटिग्रेटर यानी एमएसआई प्रकल्प के अंतर्गत ध्यान रखने के लिए 100 किलोमीटर से अधिक केबल डालने  खोदकाम कर केबल डाले है। इसमें पुलिस आयुक्त कार्यालय में हाल ही में उदघाटन हुए कमांड एंड कंट्रोल सेंटर के लिए जरुरी केबल शामिल है. 1680 करोड़ के पेयजल आपूर्ति प्रकल्प पर अमलीजामा पहनाने के मार्ग पर है। इस प्रकल्प के अंतर्गत शहर के पानी की किल्लत दूर होगी। शहर में आधुनिक स्ट्रीट लाईट बिठाना का काम लगभग पूरा हो चुका है, इसको लेकर कोई शिकायत आज तक नहीं आयी। मनपा तथा औरंगाबाद स्मार्ट सिटी एकत्रित रुप से ई गवर्नन्स पर काम कर रहे है। जिसके चलते जल्द ही प्रमाण पत्र, ऑनलाईन बिल तथा व्यवहारों की घरों तक सर्विस देना आसान होगा।

वर्तमान में शहर के 10 ऐतिहासिक दरवाजे व शहागंज के घडी के टॉवर का काम युध्दस्तर पर जारी है। यह सभी कार्य अप्रैल एंड तक पूरा होने की अपेक्षा है। प्रशासक पांडेय ने बताया कि शहर में पर्यटन को बढ़ावा देने के लिए स्मार्ट सिटी का बस विभाग ई बस लाने की योजना पर काम कर रहा  है। यह बसेस हेरिटेज मार्ग पर दौडेंगी। जिलाधिकारी के इजाजत से मनपा के शहरी परिसर में बड़े पैमाने पर वृक्षारोपण किया जाएगा। जिसके अंतर्गत 80 स्थानों पर 10 हजार पौधे लगाए जाएंगे। सार्वजनिक यातायात के बारे में बोलते हुए आयुक्त पांडेय ने कहा कि स्मार्ट कार्ड, वेईकल टै्रकिंग सिस्टिम, ई-टिकटिंग व मोबाईल एप  तकनीकी ज्ञान से  बनाए गए है। औरंगाबाद के लडको, युवा-युवतियों को एंडवांचर गार्डन तथा 24 बाय 7 इंटरटेनमेंट संकल्पना क्षेत्र निर्माण करने के लिए प्रयास जारी होने  जाने की जानकारी प्रशासक पांडेय ने दी। औरंगाबाद फस्र्ट के अध्यक्ष प्रीतेश चटर्जी, जिलाधिकारी सुनील चव्हाण, सीपी डॉ. निखिल गुप्ता सहित अन्य अधिकारियों ने जालना  रोड को औरंगाबाद का मॉडल रोड बनाने का संकल्प व्यक्त किया।

Comments