लेखिका विजय लक्ष्मी शर्मा व सुवर्णा परतानी को यूरोप से मिली डॉक्टरेट
- डॉ. शंभू पंवार

नई दिल्ली : यूरोप की संस्था यूरोपीय रोमन अध्ययन और अनुसंधान संस्थान,बेलग्रेड ने प्रख्यात लेखिका विजय लक्ष्मी भट्ट शर्मा, दिल्ली व लेखिका सुवर्णा परतानी(हैदराबाद) को डॉक्टरेट की उपाधि से अलंकृत किया है।  

भारतीय संसद,राज्य सभा मे उपनिदेशक के पद पर कार्यरत  लेखिका विजय लक्ष्मी शर्मा व प्रसिद्ध साहित्यकार,लेखिका सुवर्णा परतानी को  यूरोप की संस्था यूरोपीय रोमन अध्ययन और अनुसंधान संस्थान,बेलग्रेड (सर्बिया गणराज्य) के चैयरमेन डॉ.बज राम हालिटी ने मानवता और मानव अधिकारों में डॉक्टरेट की मानद उपाधि से संम्मानित किया ।

श्रीमती विजय लक्ष्मी शर्मा एक बेहतरीन लेखिका ही नही सच्ची समाज सेविका भी है।इनकी तीन पुस्तके व 2 सांझा संग्रह प्रकाशित हो चुके है। दिल्ली से प्रकाशित राष्ट्रीय हिंदी मासिक पत्रिका " ट्रू मीडिया " ने इनके व्यक्तित्व और कृतित्व पर केंद्रित एक विशेषांक भी प्रकाशित किया।

लेखिका सुवर्णा परतानी के बीस सांझा संग्रह व नेत्रहीन लोगो के लिए एकल संग्रह " गुलदस्ता" प्रकाशित हो चुके है।परतानी को साहित्य लेखन व सामाजिक  सरोकारों में उल्लेखनीय योगदान के लिए एशिया प्राइड अवार्ड, प्राइड ऑफ वुमन अवार्ड,राष्ट्रीय रत्न अवार्ड, नारी रत्न अवार्ड,साहित्य रत्न सम्मान सहित अनेक बार राष्ट्रीय व अंतरराष्ट्रीय अवार्ड से संम्मानित किया जा चुका है।

श्रीमति शर्मा व परतानी को यह अंतरराष्ट्रीय सम्मान मिलने पर ट्रू मीडिया के संपादक ओम प्रकाश प्रजापति, वरिष्ठ पत्रकार व लेखक डॉ शम्भू पंवार, अंतरराष्ट्रीय एम्बेसडर सुनीता खोखर,साहित्यकार डॉ मनोज कामदेव, सहित अनेक साहित्यकारो व  साहित्यिक संस्थाओं ने शुभकामनाये प्रेषित की है।
Comments