ट्रेड इंडिया डॉटकॉम मान्यता प्राप्त गूगल माय बिजनेस पार्टनर बना

~ एसएमई को डिजिटल बनने में मदद करने का लक्ष्य ~

मुंबई : देश के प्रमुख ऑनलाइन बी2बी बाजारों में से एक ट्रेडइंडिया डॉट कॉम (TradeIndia.com) अब एक भरोसेमंद गूगल माय बिजनेस पार्टनर बन चुका है। कंपनी अब प्रभावी रूप से स्थानीय एसएमई को रजिस्टर कर सकती है ताकि उनकी व्यापार लिस्टिंग गूगल सर्च खोज और मैप्स पर दिखाई दे सके। मान्यता प्राप्त गूगल माय बिजनेस सर्टिफायर के रूप में ट्रेड इंडिया अब काफी कम समय में किसी बिजनेस को उसके व्यवसाय के स्थान पर जाकर सर्टिफाई कर सकेगा।

पुष्टि होने के बाद बिजनेस अपने कारोबार से जुड़ी जानकारी को एडिट और अपडेट कर सकेंगे, अपने बिजनेस लिस्टिंग के बारे में इनसाइट देख सकेंगे और मौजूदा व संभावित ग्राहकों से बातचीत कर सकेंगे। उपलब्ध कराई गई सामग्री में फोटो, संचालन के घंटे, कस्टमर रिव्यू आदि शामिल हैं। अपने प्रोफाइल में सटीक जानकारी जोड़ने वाले बिजनेस संभावित ग्राहकों के लिए एक अच्छा अनुभव प्रदान करने के लिए महत्वपूर्ण है।

5.5 मिलियन से अधिक एसएमई ट्रेड इंडिया के अत्याधुनिक डिजिटल प्लेटफ़ॉर्म का हिस्सा हैं। वे भी अधिक से अधिक एंगेजमेंट और कस्टमर कनेक्टिविटी हासिल करने के लिए गूगल माय बिजनेस प्रोग्राम पर विस्तार से बिजनेस प्रोफ़ाइल बना पाएंगे। हाई-क्वालिटी लिस्टिंग से कारोबारी डील्स की संभावना भी बढ़ जाएगी।

ट्रेडइंडिया डॉटकॉम के सीओओ संदीप छेत्री ने कहा, "गूगल माय बिजनेस का भरोसेमंद पार्टनर बनना एक बड़ी उपलब्धि है। यह स्थानीय बिजनेस को गूगल सर्च और मैप्स फीचर्स पर दिखने वाली कस्टमाइज्ड बिजनेस लिस्ट में सक्षम करेगा, जहां वे अपने प्रोडक्ट्स और / या सर्विसेस के बारे में जानकारी प्रदान करेंगे। ओवरऑल कस्टमर एक्सपीरियंस बढ़ा सकेंगे। यह देश के हजारों छोटे व्यवसायों को प्रत्यक्ष रूप से सहायता प्रदान करेगा ताकि अधिक विजिबिलिटी और कस्टमर एंगेजमेंट पैदा कर सके।”

Comments
Popular posts
सीएम उद्धव ठाकरे ने पूरे राज्य के लोगो को अगले 8 दिन सतर्क रहने को कहा है--वरना लॉक डाउन लगाने के संकेत भी दे दिए है
Image
आपसी विवाद में युवक घायल, मामला रफा-दफा करने मे जुटी थी पुलिस
Image
दादरा और नगर हवेली से लोकसभा सदस्य मोहन डेलकर मुंबई के एक होटल में पाए गए मृत, गुजराती में लिखा सुसाइड नोट बरामद
Image
बाल विकास विभाग की कारगर योजनाओं से ही कुपोषण से मिला मुक्ति, 2668 केन्द्रों पर पौष्टिक आहार के लिए बच्चों, महिलाओं व किशोरियों में आ रही जागरूकता
Image
महाराष्ट्र से कर्नाटक आने वालों को बिना कोरोना रिपोर्ट देखे एंट्री की गई बन्द !
Image