होटल देसी ढाबा में ग्यारह लोगों के समूह द्वारा हमला, दो घायल

पुलिस ने महज चार घंटे में सात को किया गिरफ्तार

रिपोर्ट : रितेश वाघेला

पनवेल/नवी मुंबई : 26 दिसंबर को जबकि क्रिसमस का त्योहार पूरे शबाब पर था कमोठे में शराब पीने के दौरान एक मामूली विवाद में 11 लोगों की भीड़ ने आग लगा दी जिसमें दो लोग घायल हो गए। घटना के महज चार घंटे में पुलिस अधिकारी संजय पाटिल ने इनमें से सात को गिरफ्तार कर सामान जब्त कर लिया। पाटिल की साहसी कार्रवाई की हर जगह सराहना की जा रही है। उनके इस कार्यवाही ने कामोठे और उसके आसपास के गैंगस्टरों को हिला कर रख दिया है।

जानकारी के अनुसार मयूर बबन जाधव (27) और उसका भाई योगेश (29) 26 दिसंबर को कमोठे के प्रसिद्ध होटल देसी ढाबा में लगभग 9:30 बजे ठहरे थे। कलंबोली, नवी मुंबई अपने दोस्तों के साथ शराब पी रहा था। उस समय, उनके परिचित मैडी उर्फ ​​मधुकुमार सूदन और उनके साथी राकेश ठाकुर, मोहन गावड़ा, विजय नादर, अली, थापा, तेजस, गौरव, अमय, नंदकिशोर आए और उनके बीच बहस हो गई। इस दौरान जैसे ही जाधव भाई बाहर आए, उन्हें ग्यारह के समूह ने घेर लिया और पिटाई करने लगे। इसी बीच अली ने पिस्तौल निकाली और पहले हवा में फिर उसने योगेश पर फायर कर दिया। योगेश का निशाना चूक गया। तब भीड़ ने पथराव किया और जाधव भाइयों को घायल कर दिया। यह देखकर कि वह घायल हो गया है भीड़ ने उसका मोबाइल फोन छीन लिया और उसकी टाटा नेक्सन कार सहित दो अन्य कारों और दो मोटरसाइकिलों के साथ भाग गई।

शिकायत दर्ज होते ही वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक संजय पाटिल ने मामले को उठाया। उन्होंने पुलिस आयुक्त रवींद्र गिद्दे के मार्गदर्शन में नवी मुंबई के पुलिस आयुक्त बिपिन कुमार सिंह, संयुक्त पुलिस आयुक्त जय जाधव, सर्कल 2 के उपायुक्त शिवराज पाटिल और छह अन्य निर्देशन पर जांच शुरू की। जैसे ही उन्हें वादी से जानकारी मिली, उन्होंने कोपरखैरने, सानपाड़ा, नेरुल और कमोठे इलाकों में तलाशी अभियान चलाया और महज चार घंटे में मामले के सात आरोपियों को रंगे हाथों पकड़ लिया गया। साथ ही गवती कट्टा, टाटा नेक्सन, ओलास वैगन वेंटो, वोक्सवैगन, बजाज पल्सर मोटरसाइकिल और 16,79,000 रुपये कीमत की मोबाइल जब्त की गई। गिरफ्तारी के बाद पनवेल तालुका पुलिस स्टेशन के पास मंथन हॉल में आयोजित एक संवाददाता सम्मेलन में मीडिया को जानकारी देने के साथ ही आगे की जांच अपराध शाखा के पुलिस निरीक्षकों द्वारा की जा रही है।

Comments