मानसिक स्वास्थ्य शिविर आयोजित, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र चुनार में हुई लोगों की काउंसिलिंग

140 लोगों का किया गया स्वास्थ्य परीक्षण, 61 में मिले मानसिक रोग के लक्षण

रिपोर्ट : टी.सी.विश्वकर्मा

मीरजापुर, (उ.प्र.) : सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र चुनार पर वृहस्पतिवार को मानसिक स्वास्थ्य शिविर आयोजित हुआ। शिविर में जिला मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम की टीम ने  प्रतिभाग किया। शिविर का शुभारम्भ मानसिक स्वास्थ्य कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ नीलेश श्रीवास्तव ने  किया। उन्होंने कहा कि आज बच्चों से लेकर बड़ों तक सभी द्वारा अलग-अलग मानसिक दबाव का अनुभव किया जाता है जो विभिन्न मानसिक रोगों का कारण बनता  है।अनियमित जीवनशैली भी मानसिक रोगों के मुख्य कारणों में से एक है। मनोचिकित्सक डॉ दिनकर प्रकाश त्रिपाठी ने मानसिक रोगों के विभिन्न लक्षणों को बताते हुए शिविर में आए लोगों को मानसिक रोगों के प्रति जागरूक किया।

इस अवसर पर मनोचिकित्सक डॉ पंकज सिंह ने कहा कि मानसिक रोगियों से सहानुभूति पूर्ण व्यवहार रखना चाहिए और वह  नियमित रूप से दवा के सेवन से अपना जीवन सामान्य  रूप से व्यतीत कर सकते हैं।  शिविर में  140 लोगों का स्वास्थ्य परीक्षण किया गया, जिसमें 61 लोगों में  मानसिक रोग से संबंधित लक्षण पाये गए। इन लोगों को आवश्यक परामर्श के साथ ही औषधि प्रदान की गई।

डॉ राहुल सिंह नैदानिक मनोवैज्ञानिक द्वारा मानसिक मंदित बच्चों का बुद्धि का परीक्षण कर आठ  बच्चों का मानसिक मंदित का प्रमाण पत्र निर्गत किया गया।

शिविर में आये सभी लोगों  का रक्तचाप एवं शुगर का भी परीक्षण किया गया। इसके साथ ही अन्य स्वास्थ्य सुविधाएं भी स्वास्थ्य केंद्र के माध्यम से प्रदान की गयीं | इसमें अन्य रोगों का इलाज निशुल्क प्रदान किया गया ।

शिविर में जिला चिकित्सालय मिर्जापुर से अभिषेक सोनकर, श्वेता वर्मा, दिनेश यादव, शशि कला, मनीष उपाध्याय के साथ ही स्वास्थ्य केंद्र के समस्त स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा आवश्यक सहयोग प्रदान किया गया।

Comments