जिले में शुरू हुआ कोरोना वैक्सीन का प्रशिक्षण कार्यक्रम, कोविड वैक्सीन को लेकर जिले में तैयारी आखिरी चरण में

वैक्सीन के लिए कोविड ऐप की हुई शुरूआत, कोरोना वैक्सीन को लेकर 6 सदस्यीय 6 कमेटी का हुआ गठन

रिपोर्ट : टी0सी0विश्वकर्मा

मीरजापुर, (उ0प्र0) : कोविड वैक्सीन को लेकर मुख्य चिकित्साधिकारी के आदेशानुसार गुरूवार को कोरोना वैक्सीन का प्रशिक्षण कार्यक्रम टेªनर द्वारा शुरू किया गया। विभाग द्वारा आयोजित दो दिवसीय टेªनिंग का आयोजन किया गया है। प्रथम दिन के प्रशिक्षण में जिले में 18 मास्टर टेªनर बनाये गये है।

जिला प्रतिरक्षण अधिकारी डाक्टर नीलेश श्रीवास्तव ने बताया कि प्रशिक्षण प्राप्त मास्टर टेªनर जिले के स्वास्थ्य केन्द्रों पर मौजूद अधीक्षकों को टेªनिंग देने का कार्य करेगे। इसके अलावा एक कोविड ऐप की भी शुरूआत किया गया। इस ऐप के माध्यम से कोविड वैक्सीन सम्बन्धी सारी व्यवस्था की जायेगी। इस ऐप में वैक्सीन सेन्टरों को पहले फीड किया जायेगा जहां पर कोरोना वैक्सीन लगना होगा। जिनको कोरोना वैक्सीन लगना होगा उसकी भी सूची केन्द्रवार इसमें 22 दिसम्बर तक अपलोड कर दिया जायेगा। कोरोना वैक्सीन को लेकर जिले भर 16 केन्द्रों को प्रथम चरण के वैक्सीन लगाने के लिए चयनित कर लिया गया है। वैक्सीन उन्ही केन्द्रों पर लगाये जायेगे। जहां पर बड़े कमरे हो और दो दरवाजे मौजूद होगे। वैक्सीन लगाने के बाद उनको आधे घण्टे के लिए रोकने की व्यवस्था होगी।  

एक केन्द्र पर 100 लोगों का होगा वैक्सीनेशन

मुख्य चिकित्साधिकारी डाक्टर पी0डी0गुप्ता ने बताया कि एक केन्द्र पर एक दिन में 100 लोगों से ज्यादा लोगों का वैक्सीनेशन नहीं किया जायेगा। विभाग द्वारा गठित टीम जिले में बनाए गए सभी सेन्टरों पर एक-एक टीम की तैनाती करेगे। 

स्पेशल सीरिज का होगा प्रयोग 

डाक्टर नीलेश के अनुसार कोरोना वैक्सीन के लिए स्पेशल सीरिंज का प्रयोग किया जायेगा। यह सीरिंज आटो डिसेबल्ड होगी, जो एक बाद के प्रयोग के बाद दोबारा प्रयोग नही हो सकेगी। जिले में 5 एमएल की स्पेशल सीरिंज माह के अन्त तक पर्याप्त मात्रा में जिले के सभी केन्द्रों पर उपलब्ध करा दी जायेगी।

16 केन्द्रों पर होगा वैक्सीनेशन 

जिले में कोरोना वैक्सीनेशन के लिए 16 केन्द्र बनाए गए है। इन केन्द्रों पर दो चरणों में दो बार वैक्सीनेशन का कार्य किया जायेगा। जिले के सभी केन्द्रों पर वैक्सीनेशन के लिए तैयारियां की जा रही है। इसके अलावा केन्द्रों पर वैक्सीन रखने के लिए कोल्डचैन भी अलग से बनाया जा रहा है।

Comments