छोटे पर्दे के सितारों की नज़र में 2020 की विदाई व 2021 का स्वागत

 • पारस अरोड़ा (सोनी सब के ‘काटेलाल एंड संस’ में डॉ. प्रमोद)

इस साल ने हमें बहुत कुछ सिखाया है। मैंने हमेशा भविष्य की योजनाएं बनाने पर ज्यादा यकीन किया है, लेकिन पिछले कुछ महीनों ने मुझे वर्तमान में जीने और उसका मजा लेने का महत्व समझाया है। इसलिये, मैंने आने वाली समस्याओं की चिंता करना छोड़ दिया है और मैं वर्तमान पलों का मजा लेने पर ज्यादा ध्यान दे रहा हूँ। इसका मतलब यह कतई नहीं है कि आप बिना योजना बनाए अपनी सारी कमाई खर्च कर दें।

इस साल शूटिंग के लिहाज से ज्यादा काम नहीं हुआ है, लेकिन फिर भी इस साल ने मानसिक रूप से बहुत थकान दी है। इसलिये, मैं साल 2021 में खूब यात्रा करना चाहता हूँ, ताकि रिलैक्स करके तरोताजा हो जाऊं। बीते साल ने हमें यह भी सिखाया है कि हमें अपने दोस्तों और परिवार की कितनी जरूरत है, खासकर कठिन समय में। तो मैं इस साल उनके साथ ज्यादा जुड़ा रहना चाहता हूँ। नये साल के लिये मेरा संकल्प है अपनी फिटनेस पर ध्यान देना, और मैं रोजाना जिम जाने की कोशिश करूंगा। मैं लंबे समय से गिटार बजाना भी सीखना चाहता हूँ और उम्मीसद है कि इस साल यह जरूर कर पाउंगा।

नये साल का स्वागत करने के लिये मैं एक हाउस-पार्टी की योजना बना रहा हूँ, जिसमें मेरे कुछ करीबी दोस्त होंगे, मौजूदा प्रतिबंधों और सुरक्षा के प्रोटोकॉल्स का ध्यान रखते हुए।

• आशी सिंह (सोनी सब के ‘अलादीन- नाम तो सुना होगा’ में यास्मीन)

साल 2020 ने मुझे लोगों और चीजों का महत्व समझाया है, जो पहले मुझे पता नहीं था, क्योंकि मैं सोचती थी कि वे तो हमेशा मेरे साथ रहेंगे। इसलिये मैंने जीवन में मिली हर चीज के प्रति कृतज्ञ रहना सीखा है।

मैं हाल ही में अपने दोस्तों के साथ एक प्री-न्यू ईयर ट्रिप के लिये गोवा गई थी, क्योंकि मैं इस समय नये साल पर भीड़ से बचना चाहती थी। तो नये साल की शाम को मैं अपने परिवार के साथ घर पर रहूंगी।

मुझे नये साल के संकल्पों पर यकीन नहीं है, क्योंकि पिछले साल मैंने एक संकल्प लिया था, लेकिन उसे निभा नहीं सकी। मैं सोचती हूँ कि अगर आप कोई अच्छा काम शुरू करना चाहते हैं, तो ऐसा कभी भी और कहीं भी कर सकते हैं। साल 2020 में जो समय व्यर्थ हुआ, उसकी पूर्ति करने के लिये, मैं अपनी फिटनेस पर ध्यान देना शुरू कर चुकी हूँ और अगले साल भी यह जारी रखूंगी, बहुत ज्यादा लगन के साथ।

• गुल्की जोशी (सोनी सब के ‘मैडम सर’ में हसीना मलिक)

साल 2020 ने मुझे सिखाया है कि सब कुछ अपने काबू में नहीं रहता है। हम अपने जीवन में योजना बनाते हैं और फिर योजना के अनुसार काम नहीं होने पर शिकायत करते हैं। फिर, कोई महामारी जैसी चीज आ जाती है और आपको अहसास होता है कि आपके काबू में कुछ नहीं है। चाहे आपका सब कुछ बिगड़ जाए, कोई फर्क नहीं पड़ता। आपको बढ़ते रहना होगा और जिन्दगी को उसके ही रूप में अपनाना होगा। हालांकि, मेरी सबसे बड़ी सीख यह रही कि कभी भी कुछ भी हो सकता है और इसलिये, पैसे का मैनेजमेन्ट बहुत महत्वपूर्ण है।

आने वाले साल के लिये, मेरी खूब आराम करने और रिलैक्स होने की योजना है। मैं अपने परिवार और करीबी दोस्तों के साथ समय बिताना चाहती हूँ। नये साल के लिये मेरा संकल्प सोशल मीडिया पर बेहतर होने का है।

• युक्ति कपूर (सोनी सब के ‘मैडम सर’ में करिश्मा सिंह)


इस साल ने मुझे शांत रहना और पैसे बचाना सिखाया है। सबसे महत्वपूर्ण चीज, जो मैंने सीखी है, वह है खुद को सबसे ज्यादा प्यार करना, क्योंकि अपनी खुशी ही सबसे ज्यादा मायने रखती है। इसलिये, मैंने खुद को थोड़ा और प्यार करना शुरू कर दिया है।

नया साल आने के साथ, मैंने जिन्दगी में अनुशासित बनने का फैसला किया है- जल्दी उठना, वर्क आउट करना, मजे करना और अपने काम के लिये ज्यादा लगन रखना। चूंकि मैं अपने पैरेन्ट्स से दूर रहती हूँ, मैं जितना संभव हो, अपने परिवार के साथ समय बिताऊंगी, क्योंकि मुंबई में मुझे घर वाला प्यार और देखभाल नहीं मिलती है।

साल 2021 की शुरूआत के साथ मैं अपने भाइयों के साथ गोवा जाऊंगी, क्योंकि मुझे उनके साथ यात्रा करना पसंद है। इसके लिये मैंने पहले ही ‘मैडम सर’ की शूटिंग से कुछ दिनों की छुट्टी भी ली है और मैं बहुत रोमांचित हूँ।

Comments