हत्या के प्रयास के मामले में गिरफ्तार भूतपूर्व विधायक हर्षवर्धन जाधव 18 दिसंबर तक पुलिस कस्टडी में

- रिपोर्ट : प्रमोद कुमार

पुणे : हत्या के प्रयास के मामले में पुणे पुलिस द्वारा गिरफ्तार किए गए भूतपूर्व विधायक एवं भाजपा के वरिष्ठ नेता व मौजूदा केंद्रीय मंत्री रावसाहेब दानवे के दामाद हर्षवर्धन जाधव को अदालत ने 18 दिसंबर तक पुलिस कस्टडी में भेजने का आदेश दिया है। बुधवार को अदालत में पेश करने पर जाधव ने इस मामले के पीछे सियासी साजिश रचने और शिकायतकर्ता ने ही उनसे मारपीट करने का आरोप लगाया।पुलिस के अनुसार सोमवार शाम को औंध इलाके में जब अमन चड्ढा अपने बुजुर्ग माता- पिता को लेकर मोटरसाइकिल से जा रहे थे, तब कार में ईशा झा नामक महिला के साथ बैठे हर्षवर्धन जाधव ने दरवाजा खोला। इससे मोटरसाइकल के रास्ते में गिर गई। इस पर जब उन्होंने जवाब से मांगा तब जाधव और ईशा ने उनके और उनके पिता के साथ मारपीट की। अमन ने पिता के हृदयरोगी रहने की जानकारी देने के बाद भी जाधव एवं उनकी साथी महिला, दोनों उनसे उलझ गये और उन्होंने उनके पेट में घूसा मारा।

पुलिस के अनुसार वृद्ध दंपत्ति फिलहाल अस्पताल में भर्ती हैं। पुलिस ने भारतीय दंड संहिता की धारा 307 (हत्या के प्रयास) समेत विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज कर हर्षवर्धन जाधव को गिरफ्तार कर लिया। बुधवार को उन्हें अदालत में पेश करने पर उन्हें 18 दिसंबर तक पुलिस कस्टडी में भेजने का आदेश दिया गया। हर्षवर्धन जाधव ने पहले महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना और बाद में शिवसेना की ओर से औरंगाबाद जिले के कन्नड निर्वाचन क्षेत्र का विधानसभा में प्रतिनिधित्व किया था। वह 2019 में निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में विधानसभा चुनाव हार गये थे।

Comments