शिक्षक/ स्नातक द्विवार्षिक निर्वाचन के लिये जिलाधिकारी ने बैठक कर अधिकारियों को आचार संहित का कड़ाई से पालन करने का दिया निर्देश


रिपोर्ट : बृजेश गोंड


मीरजापुर, (उ.प्र.) : वाराणासी खण्ड स्नातक/शिक्षक द्विवार्षिक निर्वाचन का मतदान जनपद में 1 दिसम्बर, 2020 को सम्पन्न होना है। जनपद में शांतिपूर्ण, निष्पक्ष एवं स्वतंत्र ढंग से निर्वाचन सम्पन्न कराने के उददेय से जिलाधिकारी/जिला निर्वाचन अधिकारी सुशील कुमार पटेल 6 नवम्बर को देर शाम कलेक्ट्रेट में अधिकारियों की बैठक कर निर्वाचन आयोग से प्राप्त दिशा निर्देशों से अवगत कराया। जिलाधिकारी ने कहा कि उक्त निर्वाचन में निर्वाचन लड़ने वाले अभ्यर्थियों को आयोग द्वारा निर्धारित आदर्श आचार संहिता का पालन करते हुये प्रचार-प्रसार किया जाना है। उन्होंने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग द्वारा जारी आदर्श आचार संहिता सम्बन्धी दिशा निर्देशों से सभी लोगों को अवगत कराया दिया जाये और आचार संहिता का कडाई पालन कराया जाये। आचार संहिता का कडाई से पालन सुनिश्चित कराने के लिये जिलाधिकारी द्वारा जनपद में वीडियो निगरानी /उडनदस्ता व व्यय सम्बन्धी 4 टीमों का गठन किया गया है जिसमें प्रथम टीम में उप जिलाधिकारी सदर, पुलिस क्षेत्राधिकारी सदर, तथा एस0एच0ओ0 देहात कोतवाली को शामिल किया जो तहसील सदर के अन्तर्गत कार्य करेगें। इसी प्रकार उप जिलाधिकारी चुनार, तहसीलदार चुनार, पुलिस क्षेत्राधिकारी चुनार तथा एस०एच०ओ० चुनार को तहसील चुनार के लिये, उप जिलाधिकारी लालागंज, तहसीलदार लालगंज, पुलिस क्षेत्राधिकारी लालगंज तथा एस.एच.ओ. लालगंज, तहसील लालगंज क्षेत्र तथा उप जिलाधिकारी मडिहान, तहसीलदार मडिहान, पुलिस क्षेत्राधिकारी मडिहान तथा एस०एच०ओ० मडिहान को तहसील मडिहान क्षेत्र के लिये टीम में शामिल किया गया है। जिलाधिकारी ने कहा कि सभी टीमें अपने अपने क्षेत्र में प्रचार-प्रसार करने वाले प्रत्याशियों एवं उनके पार्टी के कार्यकर्ताओं पर विशेष दृष्टि रखेगें।


जिलाधिकारी ने कहा कि आचार संहिता का कड़ाई से पालन कराया जायेगा किसी भी स्तर पर लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जायेगी। उन्होंने कि किसी विभागीय अधिकारी के द्वारा किसी कार्य का लोकार्पण/उदघाटन/शिलान्यास आदि जैसे कार्य नहीं कराये जायेर्गे और न ही किसी अधिकारी के द्वारा किसी राजनैतिक पदाधिकारी का आतिथ्य स्वीकर किया जायेगा। उनहोंने सभी राजनैति दलों के पदाधिकारियों व निर्वाचन लडने प्रत्याशियों/कार्यकर्ताओं से भी अपील करते हुये कहा कि किसी स्तर पर आचार संहिता का उल्ल्घन न होने दें।


जिलाधिकारी ने निर्वाचन को शांतिपूर्ण निष्पक्ष एवं स्वत्रत रूप से सम्पन्न करकाने के लिये अधिकारियों को भी निर्वाचन कार्य के लिये प्रभारी अधिकारी/सहायक प्रभारी अधिकारी के रूप नामित किया गया है। इस सम्बन्ध में अपर जिलाधिकारी यू0पी0 सिंह ने जानकरी देते हुये बताया कि अविनाश सिंह प्रभारी अधिकारी कार्मिक होगें तथा उनके साथ सहायक प्रभारी अधिकारी के रूप में रिषिमुनी उपाध्याय, परियोजना निदेशक डीआरडीए. अरविन्द कुमार जिला पंचायत राज अधिकारी, आर0एन0सिंह, जिला सूचना विज्ञान अधिकारी, प्रशान्त शुक्ला जिला कोआडिनेटर, जिला पंचायत कार्यालय, अजितेन्द्र नारायण, जिला विकास अधिकारी, देवकी सिंह जिला विद्यालय निरीक्षक तथा महेन्द्र सोनकर प्रधानाचार्य राजकीय इंटर कालेज सहायक प्रभारी अधिकारी होगें जिनमें द्वारा निर्वाचन से सम्बन्धित मतदान कार्मिक, माइक्रो आब्जर्वर आदि की नियुक्ति एवं पार्टी रवानगी सम्बन्धन कार्य मतदान कार्मिक, माईको आब्जर्वर एवं जोनल/सेक्टर मजिस्ट्रेट का प्रशिक्षण कार्य कराया जायेगा।


इसी प्रकार हरिशंकर यादव अपर जिलाधिकारी भूराजस्व प्रभारी अधिकारी शिकायत तथा आदर्श चुनाव आचार संहिता होगें इनके साथ शिव प्रसाद डिप्टी कलेक्टर, ओम प्रकाश उपाध्याय, जिला सूचना अधिकारी, नितीश पाण्डेय, स्टेनो मुख्य राजस्व अधिकारी, देवकी सिंह जिला विद्यालय निरीक्षक तथा गौतम प्रसाद बी०एस०ए० सहायक प्रभारी अधिकारी रहेगें, जिनके द्वारा काकू व्यवस्था, भारत निर्वाचन आयोग तथा मुख्य निर्वाचन अधिकारी उ0प्र0 दिशा निर्देशानुसार आदर्श आचार संहिता सम्बंधी कार्य, जिलाधिकारी के माध्यम से मतदान केन्द्रों हेतु सुरक्षा कर्मी/फोर्स को ठहरने हेतु भवन का अधिग्रहण कार्य, मीडिया से सम्बन्धित सूचना एवं प्रेस वार्ता, प्रेस नोट जारी करना, जिलाधिकारी द्वारा सौंपे गये अन्य कार्य, निर्वाचन सम्बन्धी समस्त शिकायतों निस्तारण एवं शिकायत सम्बन्धी सूचनाओं को मुख्य निर्वाचन अधिकारी एवं आयुक्त वाराणसी मण्डल को प्रषित करना। जगदम्बा सिंह नगर मजिस्ट्रेट प्रभारी अधिकारी परिवहन इनके साथ सहायक प्रभारी अधिकारी रविकान्त शुक्ला, ए0आरण्टी०ओ, राम सागर सहायक सम्भागीय परिहन अधिकारी, प्रमोद कुमार सहायक सम्भागीय अधिकारी, उमेश कुमार जिला पूर्ति अधिकारी, केशव प्रसाद वरिष्ठ सहायक जिला निर्वाचन कार्यालय होगें जिनके द्वारा लोनल/सेक्टर मजिस्ट्रेटों की नियुक्ति, परिवहन /यातायात सम्बन्धित समस्त कार्य, रूट चाट तैयार करना, गाडियों में ईधन आदि का कार्य, राज कुमार गुप्ता मुख्य कोषाधिकारी प्रभारी अधिकारी मतदान टोली आदि को कैश वितरण इनके साथ सहायक के रूप में वीरेन्द्र कुमार दूबे, रोकडिया, रहेगें।


संजय श्रीवास्तव बन्दोबस्त अधिकारी चकेबन्दी प्रभारी अधिकारी मतपेटीओ, मतपत्र, उमी बैलेट पेपर होगें। इनमें साथ सहायक के रूप में कमलेश कुमार शर्मा, राजीय कुमार उपाध्याय, राकेश कुमार सिंह, शिवानन्द सिंह राठौर सहायक चकबन्दी अधिकारी सहायक प्रभारी अधिकारी होगे अरविन्द कुमार जिला पंचायत राज अधिकारी प्रभारी अधिकारी स्टेशनरी, बनाया गया है। कैलाश नाथ जिला अर्थ वं संख्याधिकारी प्रभारी अधिकारी डाटा कलेक्शन एवं डिसट्रिक मैनेजमेंट प्लान होगें इनके साथ बाल कृष्ण दूबे, अपर संख्याधिकारी, विनय कुमार पाण्डये सहायक विकास अधिकारी लगाये गये है। मुख्य चिकित्साधिकारी आर0एस0राम प्रभारी अधिकारी चिकित्सा एवं स्वास्थ्य तथा सहायक प्रभारी अधिकारी डा0 गुलाब वर्मा होगे। नीतू सिंह सिसौदिया अपर मुख्य अधिकारी जिला पंचायत प्रभारी अधिकारी वीडियोग्राफी तथा सहायक के रूप में आनन्द सिंह, अभियन्ता जिला पंचायत, गुरू प्रसाद ई-डिस्टिक मैनेजर कार्यालय कलेक्ट्रेट को बनाया गया है। समस्त उप जिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी एवं समस्त अधिशासी अधिकरी नगर पालिका परिषद एवं नगर पंचायत कछवा मीरजापुर मतदान कार्य हेतु मतदाता सूची का चिन्हित प्रतियां तैयार करने का दायित्व सौपा गया है।


जिलाधिकारी ने कहा कि समस्त प्रभारी अधिकारी/सहायक प्रभारी अधिकारी निर्वाचन सम्बन्धी सूचनाओं को आयोग के वेबसाइड पर स्वयं अथवा अपने स्टाफ के माध्यम से अपने-अपने कार्यालय में अपलोड करेगें एवं आयोग के वेबसाइड पर उपलब्ध करायेगें। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी अविनाश सिंह, अपर जिलाधिकारी यू0पी0 सिंह, मुख्य राजस्व अधिकारी हरिशंकर यादव, नगर मजिस्ट्रेट जगदम्बा सिंह के अलावा सभी सम्बन्धित अधिकारी उपस्थित रहे।


Comments