महाअघाड़ी सरकार के खिलाफ ठाणे शहर भाजपा की ओर से तीव्र आंदोलन


रिपोर्ट : प्रमोद कुमार


ठाणे : एक टीवी चैनल के पत्रकार अर्नब गोस्वामी को कथित तौर पर 53 साल के एक इंटीरियर डिजाइनर की आत्महत्या के मामले में गिरफ्तार करने को लेकर राज्‍य के महाअघाड़ी सरकार के खिलाफ ठाणे शहर भाजपा की ओर से तीव्र आंदोलन किया गया। विधायक व जिला शहर अध्यक्ष निरंजन डावखरे, विधायक संजय केलकर के नेतृत्व में बड़ी संख्या में भाजपा के पदाधिकारियों व कार्यकर्ताओं के साथ-साथ नागरिकों ने भी इस आंदोलन में भाग लिया। जिला अधिकारी कार्यालय के सामने दोपहर को राज्य की आघाड़ी सरकार के विरुद्ध में सोनिया सेना हाय हाय, सरकार हाय हाय यह ताना शाही नही चलेंगी के नारों से कोर्ट नाका परिसर गुज उठा।इस आंदोलन में भाजपा प्रदेश सचिव संदीप लेले, मनपा गट नेता संजय बाघुले, मिलिंद पाटणकर, मनोहर डुंबरे, मुकेश मोकाशी, कृष्णा पाटील, सुनेश जोशी, अर्चना मणेरा, दीपा गावंड, महिला अध्यक्षा मृणाल पेंडसे, युवा मोर्चा अध्यक्ष सारंग मेढेकर सहित नगरसेवक-नगरसेविका व भाजपा पदाधिकारी के साथ नागरिक उपस्थित थे। राज्य की जनता के साथ सरकार के अन्याय को लेकर जनता के सामने दिखाने को लेकर चौथे स्तंभ के आवाज को दबाने का कार्य चल रहा है। यह आरोप विधायक निरंजन डावखरे ने लगाया। इसके पहले 1975 में कांग्रेस सरकार भी इसी तरह की नीति की थी।उसी राह पर अब सोनिया गांधी व ठाकरे सरकार संविधान के नियमों को ताक पर रखकर राज्य सरकार कर रही है और इसको लेकर हजारों लोग सड़क पर उतरने की तैयारी में है। यह इशारा विधायक संजय केलकर ने दिया।


Comments