ज़ेवियर यूनिवर्सिटी की यूके के बोस्टन ट्रेनिंग एकेडमी के साथ साझेदारी

~ भारत के पहले ड्युअल एमटेक के लिए आए साथ ~

मुंबई : जेवियर यूनिवर्सिटी, मुंबई ने आज घोषणा की कि उन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (एआई) में भारत के पहले ड्युअल एमटेक के लिए यूके के बोस्टन ट्रेनिंग एकेडमी (बीटीए) के साथ एक निश्चित समझौता ज्ञापन (एमओयु) पर हस्ताक्षर किए हैं। शैक्षणिक वर्ष 2020-21 से शुरू होनेवाले इस अपने ही तरह के 2 साल के पूर्णकालिक पाठ्यक्रम में एआई तकनीक की डिजाइनिंग, प्रशिक्षण, डिप्लॉइंग के साथ अलग अलग तरह के एप्लिकेशन में इसका उपयोग आदि शामिल होंगे, और इसे ज़ेवियर इंस्टीट्यूट ऑफ इंजीनियरिंग के मुंबई कैम्पस में चलाया जाएगा। सेमिनार, व्यक्तिगत प्रशिक्षण आदि बोस्टन ट्रेनिंग अकादमी (BTA) द्वारा डिजाइन किये जाएंगे और आयोजित किये जाएंगे। वे इंस्टीट्यूट के कंप्यूटर साइन्स विभाग शिक्षकों के साथ-साथ पाठ्यक्रम भी चलाएंगे।

विश्व की कुछ अत्यधिक चुनौतीपूर्ण समस्याओं को हल करने में डेटा विज्ञान और एआई के उपयोग पर उद्योग अंतर्दृष्टि प्रदान करने के वाले उद्योग विशेषज्ञ पाठ्यक्रम पढ़ाने में बड़े पैमाने पर शामिल होंगे। प्रमुख कंपनियों में 6 महीने की इंटर्नशिप अनिवार्य होगी जिसके लिए बोस्टन ट्रेनिंग अकादमी की सहायता से विद्यार्थियों को संभवतः एआई इंजीनियर/डेटा साइंटिस्ट आदि के रूप में अलग अलग उद्योगों में काम सौपा जाएगा। पाठ्यक्रम पूर्ण होने पर, छात्रों को बीटीए और ज़ेवियर विश्वविद्यालय से दोहरा प्रमाणपत्र प्राप्त होगा।

ज़ेवियर विश्वविद्यालय के कुलपति डॉ. फा. एंटनी आर. उवरी-एसजे ने कहा, 'हमारा उद्देश्य गुणवत्तापूर्ण और प्रतिभाशाली एआई विशेषज्ञों/डेटा वैज्ञानिकों को एकत्रित करना है जिसकी कमी इस समय उद्योग जगत में महसूस हो रही है। यह नवोत्थान और समाज के लिए सेवाभावी दृष्टिकोण के लिए आवश्यक ज्ञान और कौशल के साथ छात्रों को सशक्त बनाने की हमारी दृष्टि का हिस्सा है। बोस्टन ट्रेनिंग एकेडमी और यह विश्वविद्यालय व्यवसाय जगत में दूरदर्शी, सक्षम, प्रतिबद्ध, दयालु और मूल्य-आधारित नेतृत्व को तैयार करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।' 

Comments