महिलायें स्वावलम्बी होगी तो होगा पूरा समाज व परिवार स्वावलम्बी - मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ

प्रधानमंत्री के द्वारा मीरजापुर व सोनभद्र के लिये 5555 करोड की हर घल जल पेयजल परियोजना का किया शिलान्यास

सोनभद्र एवं मीरजापुर के 2995 गांव होगें लाभान्वित, जनपद मीरजापुर की 2127 करोड लागत की नौ परियाजना शामिल

गोपाष्टमी पर मुख्यमंत्री टांडाफाल गो आश्रय स्थल पर किया गौ पूजा, विन्ध्याचल में किया दर्शन-पूजन

मुख्यमंत्री जी के द्वारा एन0आर0एल0एम0 समूह की महिलाओं को दिया गया एक करोड 11 लाख चेक

11 गोवंश पालकों को दिया गया गाय दूध से होगा कुपाषण दूर

रिपोर्ट : बृजेश गोंड

मीरजापुर, (उ.प्र.) : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी के द्वारा वीडियो वर्चुअल एप वीडियो कान्फ्रेंसग के द्वारा आज जनपद मीरजापुर एवं सोनभद्र के लिये 5555 करोड की लागत से कुल 23 परियोजना का का शिलान्यास किया गया। इस अवसर पर जनपद सोनभद्र में मुख्यमंत्री योगी आदित्य नाथ, जल शक्ति मंत्री गजेन्द्र सिंह तथा जल शक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह, उर्जा राज्य मंत्री रमाशंकर पटेल, सांसद अनुप्रिया पटेल एवं अन्य सांसद उपस्थित रहे। उक्त परियोजना के पूर्ण हो जाने से जनपद मीरजापुर एवं सोनभद्र के कुल 2995 गांव के लोगों नल से शुद्ध पानी से लाभान्वित हो सकेगें। जनपद मीरजापुर के कुल नौ पेयजल परियोजनाओं में ग्राम गौठौरा ग्राम समूह पाईप परियोजना, धौहां ग्राम समूह पाईप परियोजना, महादेव ग्राम समूह पाईप परियोजना, अहुंगी कला ग्राम समूह पाईप परियोजना, लेदुकी ग्राम समूह पाईप परियोजना, तलार ग्राम समूह पाईप परियोजना, मानिकपुर ग्राम समूह पाईप परियोजना, महुआरी ग्राम समूह पाईप परियोजना तथा दांती ग्राम समूह पाईप परियोजना का कुल 2127 करोड रूपये की लागत से शिलान्यास किया गया। इस परियोजना का चालू हो जाने से जनपद मीरजापुर 1606 गावों के तीन हजार तीन सौ 13 मजरों के लोग लाभान्वित हो सकेगे।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के जनपद मीरजापुर आगमन के उपरान्त मुख्यमंत्री के टांडाफाल स्थित गो आश्रय स्थल पर पहुॅच कर गोपाष्टमी के अवसर पर विधिवत हवन पूजन के साथ गायों की पूजा की। तुदपरान्त मुख्यमंत्री के कर कमलों के द्वारा राष्ट्रीय ग्रामीण आजीविका मिशन के समूह की महिलाओं के द्वारा 100910 स्कूल ड्रेस तैयार किये सिलाई के लिये पारिश्रमिक के रूप में एक करोड ग्यारह लाख रूपये का चेक सिलाई कार्य में शामिल महिलाओं को प्रदान किया गया। कार्यक्रम में बाल विकास पुष्टाहार विभाग के द्वारा राशन वितरण कार्यक्रम के अन्तर्गत मुख्यमंत्री के द्वारा 11 लाभार्थियों को राशन किट भी प्रदान किया गया। सार्व कार्यक्रम में ओ0डी0ओ0पी0 योजना अन्तर्गत दरी कालीन शो पीस हैंगवाल निर्माण कार्य किया जा रहा है इस अवसर कालीन निर्यातक सिद्धनाथ सिंह के द्वारा मुख्यमंत्री को मीरजापुर के उत्पादित कालीन को भेंट स्वरूप प्रदान किया गयां। इस अवसर पर मुख्यमंत्री के द्वारा 11 गौ पालकों को एक-एक गाय प्रदान किया तथा बताया गया कि इन गायों को गौ पालक/कृषक के द्वारा पालने हेतु दिया जा रहा है जिसका दूध वे स्वय उपयोग में लायेगें तथा इन्हें प्रत्येक माह गाय पर आने व्यय के लिये नौ सौ रूपये प्रति की दर भी प्रदान किया जोयगा। मुख्यमंत्री के द्वारा जनपद मीरजापुर में उत्पादित केला, ड्राई फूड, तथा सहजन एवं करौदा का अचार कृषकों के द्वारा भेट किया गया।

कार्यक्रम को सम्बोधित करते हुये मुख्यमंत्री ने कहा कि जिसकी मांग बरसों से विन्ध्य क्षेत्र मीरजापुर व सोनभद्र के लोगों के द्वारा की जा रही थी। आज प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के द्वारा दोनों जनपदों के लिये 23 वाटर ट्रीटमेंट परियोजना का शिलान्यास किया गया। उन्होंने कहा कि 5555 करोड की लागत से इस परियोजना से 2995 गांव के लाभान्वित हो सकेगे। मुख्यमंत्री ने कहा कुपोषित बच्चों के 11 अभिवकों को एक-एक गाय प्रदान करते हुये कहा कि गाय के दूध से गौ सेवा के साथ जहां बच्चों में कुपोषण दूर होकर सुपोषण की ओर जाने का एक अच्छा अवसर साबित होगा। उन्होंने कहा कि जब बच्चे स्वस्थ्य रहेगें तो आगे चलकर समाज भी व राष्ट्र भी स्वस्थ एवं मजबूत होगा। कहा कि इस योजना के तहत जो भी किसान व गौ पालक गाय लेना चाहते है। उन्हें गौ आश्रय स्थलों से गाय दिया जायेगा उसके खिलाने के लिये नौ सौ रूपया प्रति महा प्रति गाय की दर भी प्रदान किया जायेगा। उन्होंने कहा कि इसकी प्रत्येक माह समीक्षा की जायेगी। यह भी कहा कि सडकों व खेतों में घूमने वाली निराश्रित गायों को गौ आश्रय स्थलों मे लाया जायेगा। यदि कोई किसान उसे लेना चाहे तो उसे प्रदान किया जायेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि साढे पॉंच लाख गावों को गौ स्थलों में रखा गया जिसमें अब लगभग 65 हजार गायों को गौ पालक/कृषकों को दिया गया है। इससे गौ माता की रक्षा होगी। उन्होंने आजीविका मिशन के समूह की महिलाओं की प्रशंसा करते हुये कहा कि स्कूल ड्रेेस सिंलाई का कार्य किया गया जो सराहनीय है इससे जहां स्थानीय स्तर पर स्कूल ड्रेेस की सिंलाई हो रही है वहीं महिलाओं के आजीविका व आर्थिक स्थिति भी मजबूत हो रही है यह एक महिला सशक्तिकरण की दिशा में एक महत्वपूर्ण कदम है। उन्होंने कहा कि यदि महिलायें स्ववलम्बी होती है तो पूरा समाज व परिवार स्वलम्बी होता है। कार्यक्रम संचालन मुख्य विकास अधिकारी अविनाश सिंह के द्वारा किया गया। इस अवसर पर विधायक मझवा सुचिश्मिता मौर्य, जिलाध्यक्ष भाजपा ब्रजभूषण सिंह के अलावा अन्य अधिकारी व जन प्रतिनिधि उपस्थित रहे।

तदुपरान्त मुख्यमंत्री के द्वारा अष्टभुजा निरीक्षण गृह में आयुक्त विन्ध्याचल मण्डल प्रीति शुक्ला, जिलाधिकारी सुशील कुमार पटेल से विन्ध्य कारीडोर व जनपद के विकास कार्यक्रमों के बारे में जानकारी ली गयी। तत्पश्चात मुख्यमंत्री के द्वारा मॉ विन्ध्यवासिनी देवी का दर्शन-पूजन किया गया तथा प्रयागराज के लिये प्रस्थान कर गये। इस अवसर पर विधायक सदर रत्नाकर मिश्र के द्वारा मुख्यमंत्री को दर्शन-पूजन कराया गया तथा उर्जा राज्यमंत्री रमाशंकर सिंह पटेल, सांसद अनुप्रिया पटेल, विधायक छानवे राहुल प्रकाश, विधायक सुचिश्मिता मौर्य, जिला अध्यक्ष ब्रजभूषण सिंह के अलावा अन्य सभी जन प्रतिनिधि एवं अधिकारी उपस्थित रहे।

Comments