ज्ञानपुर विधायक विजय मिश्रा की बढ़ती जा रही हैं मुश्किलें, बलात्कार का लगा आरोप


रिपोर्ट : नीलू सिंह/अरूण शुक्ला


ज्ञानपुर/भदोही, (उ0प्र0) : वाराणसी जैतपुरा थाना अंतर्गत निवासी एक युवती ने दिन रविवार आदर्श कोतवाली गोपीगंज में विधायक विजय मिश्रा उनके पुत्र व एक अन्य के विरुद्ध बलात्कार व धमकी का मुकदमा दर्ज कराया।


प्राप्त जानकारी के अनुसार युवती ने लिखित तहरीर में बयान दिया कि 2014 से विधायक विजय मिश्रा मेरा शारीरिक शोषण करते रहे वह मुझे ब्लैकमेल करके हमेशा डराते धमकाते रहे कि शासन-प्रशासन मेरा कुछ नहीं बिगाड़ देगा। उसने बताया कि वर्ष 2014 में विजय मिश्रा ने अपने यहां गायन का कार्यक्रम कराने हेतु बुलाया। जब मैं कार्यक्रम करने वहां पहुंची और अंदर कपड़े बदल रही थी, उसी वक्त विजय मिश्र कमरे में आ गए और मुझे डरा धमकाकर मेरा शारीरिक यौन शोषण किया और धमकी दिया इस विषय में किसी को कुछ बताओगी तो जान से मरवा देंगे।


वर्ष 2015 में इलाहाबाद अल्लापुर मुझे बुलाया, अपना डॉक्यूमेंट लेकर आओ जरूरी बात करना है नौकरी के संबंध में। विजय मिश्रा ने गाड़ी भेजा और अल्लापुर उनके घर आ गई। वहां पर पुनः मेरा शारीरिक शोषण जबरदस्ती किया। वर्ष 2015 में विजय मिश्रा ने होटल में वाराणसी बुलाया। उन्होंने धमकी दी कि अगर तुम नहीं आओगी तो जान से मरवा दूंगा। मैं बहुत डर गई थी। मेरा वीडियो क्लिप भी उन्होंने रखा हुआ था। मैं शारीरिक रूप से प्रताड़ित होकर बॉम्बे में रहने लगी। विजय मिश्रा द्वारा धमका कर मुझे वीडियो कॉलिंग करने के लिए मजबूर करता था और खुद वीडियो कॉल पर नग्न हो जाता था। बड़े बड़े अपराधों के संबंध में होने की बात बता कर भयभीत हो गई और किसी को कुछ भी नहीं बता सकती।


सन 2014 में जब मेरे साथ विजय मिश्रा ने बलात्कार धनापुर में किया मुझे एक घर में अंदर रखे हथियारों को दिखाते हुए कहा किसी को बताओगी तो इसी हथियारों से तुमको ऊपर पहुंचा देंगे। यह कहते हुए अपने पुत्र विष्णु मिश्रा व विकास मिश्र पुत्र प्रकाश मिश्रा बुलाकर कहा कि इस गायिका को वाराणसी छोड़ दो। दोनों विष्णु मिश्रा व विकास मिश्रा ने मकान के सामने वाले मकान में ले जाकर डरा धमकाकर बारी-बारी से बलात्कार किया। अतः विजय मिश्र ने बोला पुलिस प्रशासन कुछ नहीं कर सकती। विजय मिश्रा ने चार आदमी को भेजकर मार्केट से उठा लिया था। साथ ही विजय मिश्र ने कहा था कि जब वीडियो कॉल करूं उठा लेना। मैं डर से उसके विरूद्ध कोई रिपोर्ट नहीं कर पाई। जब मुझे सूचना मिली कि वह गिरफ्तार कर लिए गए हैं। मैं उनके विरुद्ध कोतवाली में मुकदमा दर्ज करवाया। पुलिस विजय मिश्रा, विष्णु मिश्रा, विकास मिश्रा के विरुद्ध धारा 376D 342 506 के तहत मुकदमा कायम कर पीड़िता को मेडिकल के लिए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को भेज दिया।


Comments