5 टिप्स हर महिला का दिन शुरू करने के लिए


मुंबई : शुरुआत अच्छी हो तो आधा काम वहीं हो जाता है, पुरानी कहावत तो यही कहती है। किसी भी चीज़ की शुरुआत अच्छी हो तो पूरा काम ठीक-ठीक हो ही जाता है। यह उन महिलाओं के लिए एक विशेष रूप से उपयोगी ट्रिक हो सकती है जिन्हें घर पर और बाहर रोजमर्रा के कई काम करने की ज़रूरत होती है। मल्टीटास्किंग मुश्किल हो सकता है, और इसके साथ आने वाले तनाव को कम करने के लिए अपने दिन की एक अच्छी शुरुआत करना बहुत आवश्यक है। सौभाग्य से, कुछ आइडिया है जो हर महिला को सही तरीके से अपना दिन शुरू करने में मदद कर सकते हैं। एंजल ब्रोकिंग लिमिटेड के सीएमओ प्रभाकर तिवारी यहां 5 ऐसे टिप्स बता रहें हैं जो आपकी मदद कर सकते हैं।


सोने से पहले अपने परफेक्ट की कल्पना करें: प्रत्येक दिन की अच्छी शुरुआत पिछली रात से शुरू हो जाती है। थोड़ा अजीब है? खैर, इस तरह से देखिए। यदि आप सोने से पहले रात को ही अगले दिन का प्लान कर लेते हैं तो आपकी उस दिन सुबह उठते ही बहुत अच्छी उम्मीदें होती हैं। एक बोनस भी है। अपने आइडियल दिन का चित्रण करना और अपने कार्यों को पहले से ही पूरा करने में आपकी मदद कर सकता है जो आगे आपको करने पड़ सकेत हैं।


अपनी सुबह की दिनचर्या में कुछ मानसिक रूप से उत्तेजक आदतें शामिल करें: वीकेंड्स और छुट्टियों की सुबह धीमी होती है। यदि आपका दिन आगे व्यस्त दिखता है, तो रोज पेपर पढ़ना, उस दिन के बिजनेस जर्नल को पढ़ना और ज्ञान हासिल करना या बाजार की खबरों को समझने जैसे कुछ मानसिक रूप से उत्तेजक आदतों को अपनाकर आप अपने दिमाग जगा सकती हैं और यह एक अच्छा आइडिया है। यदि आप अपनी सुबह की दिनचर्या में इन आदतों को शामिल करती हैं तो आप पाते हैं कि आप दिनभर अधिक सतर्क और मानसिक रूप से चुस्त रहती हैं।


अपना नाश्ता सही से खाएं: बेशक नाश्ता आपके दिन का सबसे महत्वपूर्ण मील है। यह आपके दिमाग को व्यस्त दिन में आगे ले जाने के लिए आवश्यक ईंधन देता है। याद रखें, आपका दिमाग कार्ब्स पर काम करता है, इसलिए अपने नाश्ते में हेल्दी कार्बोहाइड्रेट्स शामिल करें। यह सच है, चाहे आपका दिन कैसा भी हो - चाहे आप गृहिणी हों जिसका दिन घर के कामों में ही निकल जाता है, या एक निवेशक जिसके लिए बाजार पर नज़र रखने की ज़रूरत होती है, या रोज़मर्रा के काम में लगे पेशेवर की ज़रूरत होती है।


अपने दिन को अच्छे-से प्लान करें: पहले से अपने दिन की योजना बनाना और रेडी-टू-रेफरेंस टू-डू लिस्ट रखना आपके लिए चीजों को आसान बना सकता है। यह आपको स्पष्ट तस्वीर देता है कि आपने क्या पूरा किया है और क्या किया जाना बाकी है। बिना किसी गाइडिंग प्लान के इस बात की संभावना बढ़ जाती है कि आप कुछ महत्वपूर्ण चीजों को करना ही भूल जाएं। इस वजह से दिन के लिए अपने कार्यों को लिखें (या टाइप करें) और उन चीजों के क्रम पर निर्णय लें ताकि आप उन्हें एक के बाद एक कर सकें। यह चीजों को बहुत आसान बनाता है!


माइंडफुलनेस का अभ्यास करें: सीधे शब्दों में कहें, माइंडफुलनेस आपको हाथ में मिले काम पर ध्यान केंद्रित करने में मदद करती है। यह आपको उस पल में पूरी तरह होने की अनुमति देता है। परिणाम? आप अपना काम अधिक कुशलता से कर पाते हैं। और यह सिर्फ आपके पेशेवर जीवन पर लागू नहीं होता - यह आपके व्यक्तिगत जीवन के लिए भी मान्य है। माइंडफुल होना आपको समय का ध्यान रखने में बेहतर बनाता है, यह आपको स्वस्थ खाने में मदद करता है, और क्या आप जानते हैं, यह पैसे की बचत को भी आसान बनाता है! अपने दिन की शुरुआत एक ध्यान देने योग्य नोट से करें, और देखें कि तनाव कैसे दूर हो जाता है।


Comments