उत्तर प्रदेश में कानून व्यवस्था वेंटिलेटर पर, टीम-11 जारी कर रही है झूठे आंकड़े : दीपक सिंह


लखनऊ : प्रदेश में कांग्रेस कमेटी ने कोरोना महामारी में योगी सरकार द्वारा एक तरफ जहां आम जनता के जीवन को उसके भाग्य भरोसे छोड़ दिया है वहीं सरकार और पुलिस की अर्कमण्यता के चलते रोजाना अपराधांे की बाढ़ में जनता समाती जा रही है। बलात्कार और जघन्य हत्या की घटनाओं से योगी सरकार के रामराज्य की कलई खुल गयी है। उ0प्र0 बलात्कारियों और अपराधियों का हब बन चुका है।


अखिल भारतीय कांग्रेस कमेटी के सचिव एवं सहप्रभारी उ0प्र0 धीरज गुर्जर ने आज प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि उ0प्र0 में अपराध और कोरोना में होड़ सी मची हुई है। अपराधी मनबढ़ हो चुके हैं पुलिस का इकबाल ध्वस्त हो चुका है। मुख्यमंत्री जी सहित पूरी सरकार और पुलिस न तो कोरोना पर प्रभावी नियंत्रण कर पा रही है और न ही अपराधियों पर उसका नियंत्रण रह गया है। सरकारी अस्पताल सफेद हाथी साबित हो रहे हैं और गरीब जनता निजी अस्पतालों की लूट का शिकार हो रही है। जिस प्रकार अपराधी प्रदेश में घटनाओं को अंजाम दे रहे हैं, एक-एक जनपद में तिहरी हत्याएं हो रही हैं, पुलिस कस्टडी में मौतें हो रही हैं, नाबालिग बच्चियों के साथ गैंगरेप और जघन्य हत्या की घटनाएं हो रही हैं, उससे यह पूरी तरह साफ है कि योगी सरकार का सरकार पर नियंत्रण नहीं रह गया है। उन्होने कहा कि उ0प्र0 में अपराधी अनलाॅक स्थिति में और सरकार व पुलिस लाॅकडाउन स्थिति में है।


कांग्रेस विधानमंडल दल की नेता आराधना मिश्रा‘मोना’ ने कहा कि महिलाओं के साथ हो रही रोजाना हिंसा, बलात्कार, गैंगरेप, हत्या, उत्पीड़न की घटनाएं साफ इशारा करती हैं कि प्रदेश में कानून व्यवस्था नाम की कोई चीज नहीं बची है प्रदेश बलात्कारियों का अड्डा बन चुका है। लखनऊ, लखीमपुर, सीतापुर, गोरखपुर, आगरा, प्रतापगढ़, कुशीनगर आदि दर्जनों जनपदों की घटनाएं इसका जीता जागता उदाहरण हैं। उन्होने आगे कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ का नारा देने वाली भाजपा की सरकार में बच्चियां सबसे ज्यादा असुरक्षित हैं। महिलाओं और बच्चियों को सुरक्षा देने में योगी सरकार पूरी तरह विफल है। क्या तथाकथित योगी माडल की यही सच्चाई है? मुख्यमंत्री मौन धारण किए हुए हैं, सरकार को जवाब देना होगा कि आखिर उ0प्र0 में बहन, बेटियों की सुरक्षा की जिम्मेदारी किसकी है?


कांग्रेस विधान परिषद दल के नेता दीपक सिंह ने प्रेसवार्ता को सम्बोधित करते हुए कहा कि यह वही योगी सरकार है जो सत्ता में आते ही ‘एण्टी रोमियो स्क्वायड’ बनाती है पर प्रदेश में छेड़छाड़ और रेप की घटनाओं पर लगाम लगाने में नाकाम साबित हुई है। उन्होने योगी आदित्यनाथ को सलाह देते हुए कहा कि प्रदेश में रसातल में जा रही कानून व्यवस्था की समीक्षा करें। टीम-11 के झूठे तथ्यों और तथाकथित मीडिया मैनेजमेंट से प्रदेश से अपराध नहीं रूकने वाला है, अपराधियों पर सख्त कार्यवाही करने और अपराधियों के मनोबल को तोड़ने की जरूरत है। ताकि आम जनता को राहत मिल सके। उन्होने अंत में कहा कि क्या टीम-11 को प्रदेश के विभिन्न जनपदों में हो रही इन जघन्य घटनाओं की जानकारी नहीं होती या फिर सिर्फ मुख्यमंत्री जी को खुश करने के लिए झूठे आंकड़े जारी करते हैं।


पत्रकारवार्ता में आज तक के पत्रकार नीलांशु शुक्ला, पीटीआई के पत्रकार अमृत मोहन दुबे सहित प्रदेश भर के अन्य दिवंगत पत्रकारों को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित की गयी।


Comments
Popular posts
Mumbai : ‘काव्य सलिल’ काव्य संग्रह का विश्व पर्यावरण दिवस पर विमोचन और सम्मान पत्र वितरण समारोह आयोजित
Image
Mumbai : महाराष्ट्र प्रदेश कांग्रेस कमिटी पर्यावरण विभाग के प्रदेश उपाध्यक्ष साहेब अली शेख, मुंबई अल्पसंख्यक अध्यक्ष व नगर सेवक हाजी बब्बू खान, दक्षिणमध्य जिलाध्यक्ष हुकुमराज मेहता ने किया वृक्षारोपण
Image
New Delhi :पर्यावरण संरक्षण महत्व व हमारा अस्तित्व पर 'एम वी फाउंडेशन' द्वारा विराट कवि सम्मेलन का आयोजन
Image
मानव पशु के संघर्ष पर आधारित फिल्म 'शेरनी' मेरे दिल के करीब है – विद्या बालन
Image
पावस ऋतु के स्वागत में ‘काव्य सृजन’ की ‘मराठी काव्य’ गोष्ठी
Image