उच्च शिक्षा के लिए भारतीय छात्रों द्वारा कनाडा एवं आयरलैंड का चयन : एडवॉय


मुंबई : कोरोनावायरस महामारी के दौरान विदेश में उच्च शिक्षा के लिए छात्रों की रुचि पर एडवॉय द्वारा सर्वे किया गया है। एजुकेशन कंसल्टेंसी प्लेटफॉर्म ने यूके, यूएस, कनाडा और आयरलैंड में पढ़ने के इच्छुक 4 हजार भारतीय छात्रों पर सर्वे किया है। यह अध्ययन बताता है कि 35 फीसदी छात्र उच्च शिक्षा के लिए सितंबर 2020 में कनाडा जाने की इच्छा रखते हैं, जबकि 33 फीसदी छात्रों ने आयरलैंड को चयन किया है।


इसके विपरीत सर्वे में यह बात भी सामने आई है कि जनवरी, 2021 में प्रवेश के लिए सबसे ज्यादा छात्रों ने यूएस को वरीयता दी है, जबकि कनाडा दूसरे स्थान पर है। सर्वे के अनुसार 45 फीसदी छात्रों ने विदेश में पढ़ाई के लिए अमेरिका और 35 फीसदी ने कनाडा को वरीयता दी है।


दुनियाभर में लॉकडाउन लागू होने के कारण सभी शैक्षिणक संस्थान बंद हैं, यात्राओं पर रोक है और क्वारंटीन करने का प्रावधान किया गया है। ऐसी परिस्थिति में कुछ अंतर्राष्ट्रीय यूनिवर्सिटी ने ऑनलाइन लर्निंग और क्लासरूम लर्निंग की मिली-जुली व्यवस्था अपनाने की इच्छा दिखाई है। सर्वे में पता चला है कि यूके में पढ़ने के इच्छुक 42 फीसदी भारतीय छात्रों ने ऑनलाइन लर्निंग और आमने-सामने क्लासरूम में पढ़ाई करने की मिश्रित व्यवस्था को सराहा है।


पिछले महीने यूके होम ऑफिस ने घोषणा की थी कि अंतर्राष्ट्रीय छात्र अभी ऑनलाइन कोर्स शुरू कर सकते हैं और अप्रैल 2021 से कैंपस जॉइन कर सकते हैं। कई अंतर्राष्ट्रीय यूनिवर्सिटीज ने परिस्थितियां बेहतर होने तक इस तरह की मिश्रित व्यवस्था अपनाने की इच्छा जाहिर की है।


एडवॉय के संस्थापक और सीईओ सादिक बाशा ने कहा कि “एडवॉय में हम विदेशों में पढ़ने के इच्छुक छात्रों के लिए जो जरूरी होता है, वो करते हैं। यह सर्वे प्रमुख तौर पर यह समझने के लिए आयोजित किया गया था कि कोरोनावायरस महामारी ने विदेशों में पढ़ने के इच्छुक छात्रों के निर्णय को किस प्रकार बदला है। हम बार-बार यही बात दुहराना चाहते हैं कि हम छात्र और हायर एजुकेशन कम्युनिटी हैं, जो इस संकट के दौर में छात्रों की मदद करना चाहती है। हम मेंटर की सहायता से छात्रों को उनके भविष्य के बारे में सही निर्णय लेने के लिए गाइड कर रहे हैं।”


Comments