वित्तीय समावेशन के संबंध में जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति की बैठक आयोजित


रिपोर्ट : निर्णय तिवारी


छतरपुर : नीति आयोग द्वारा छतरपुर को एस्पिरेशनल डिस्ट्रिक्ट (आकांक्षी जिला) के रूप में चयनित किया गया है। केन्द्र सरकार द्वारा चयनित आकांक्षी जिलों में टारगेटेड फाइनेंशियल इनक्लूजन इंटरवेंशन प्रोग्राम (टीएफआईआईपी) के सफल क्रियान्वयन हेतु राज्य शासन द्वारा जिला स्तर पर संबंधित जिला कलेक्टर की अध्यक्षता में क्रियान्वयन समिति का गठन किए जाने के निर्देश दिए गए थे। इन्हीं निर्देशों के अनुपालन में  कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में वित्तीय समावेशन के संबंध में जिला स्तरीय क्रियान्वयन समिति की प्रथम बैठक कलेक्टर शीलेन्द्र सिंह की अध्यक्षता आयोजित की गई। बैठक में जिला पंचायत सीईओ हिमांशु चन्द्र, पीओ डूडा, एलडीएम एवं अन्य बैंकों के प्रतिनिधि उपस्थित रहे।


बैठक के दौरान कलेक्टर श्री सिंह ने एलडीएम को निर्देशित किया कि वे सभी बैंकों के साथ समन्वय बनाकर यह सुनिश्चित करें कि केन्द्र सरकार द्वारा चलाई जा रही महात्वाकांक्षी योजनाओं का लाभ हर पात्र हितग्राही तक पहुंचाया जा सके। इसके लिए जरूरी है कि स्वीकृत ऋण राशि का वितरण संबंधित बैंक द्वारा जल्द से जल्द कराया जाए।


बैठक में पीओ डूडा निरंकार पाठक द्वारा बताया गया कि प्रधानमंत्री स्वनिधि योजनांतर्गत छतरपुर नगर पालिका से 1 हजार 97 पथ विक्रेताओं के आवेदन बैंकों में प्रेषित किए गए थे। जिनमें से अभी तक केवल 94 आवेदनों में राशि वितरित की गई हैं। कलेक्टर ने इस स्थिति पर अप्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि उक्त योजना के क्रियान्वयन में यदि किसी भी तरह की लापरवाही बरती गई तो संबंधित के विरूद्ध सख्त कार्यवाही की जाएगी। उन्होंने निर्देश दिए कि सभी बैंक प्रधानमंत्री स्वनिधि योजना के अंतर्गत दिए गए आवेदनों का शत-प्रतिशत निराकरण निर्धारित की गई समयावधि के अंदर करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर श्री सिंह ने आधार सीडिंग एवं केसीसी के कार्यों की भी प्रगति की समीक्षा की।


Comments