Unnao : विशिष्ट उद्योग बन्धु की बैठक का किया गया आयोजन


रिपोर्ट : तनवीर खान 


उन्नाव, (उ0प्र0) : जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार की अध्यक्षता में एक सर्वथा अनूठी उद्योग बन्धु बैठक का आयोजन आई0आई0ए0 सभागार, यू0पी0 सीडा सामान्य सुविधा केन्द्र साइट-1, उन्नाव में किया गया। जनपद उन्नाव निरंतर तीन माह से निवेश मित्र रैंकिग में प्रदेश में प्रथम स्थान प्राप्त करने में सफल रहा है। आई0आई0ए0, अध्यक्ष मोहन बंसल ने कहा कि जिलाधिकारी के कुशल निर्देशन में ही यह सम्भव हो सका है। साथ ही विगत माह-मार्च से 31 मई तक कोरोना लाॅकडाउन पीरियड में सम्पूर्ण प्रदेश में सर्वप्रथम जनपद उन्नाव में समस्त उद्योगों का कुशलता पूर्वक संचालन आरम्भ हुआ, जिसके आभार ज्ञापन हेतु उद्यमियों के अनुरोध पर जिला उद्योग बन्धु बैठक का आयोजन सर्वथा नवीन पहल के रूप में औद्योगिक क्षेत्र साइट-1, दही चैकी, उन्नाव में किया गया। 


सर्वप्रथम जिलाधिकारी रवीन्द्र कुमार ने इस अवसर पर आई0आई0ए0 प्रागंण में बाॅटल पाॅम, तथा पुलिस उपाधीक्षक, वी0के0 पाण्डेय ने हरसिंगार का पौधारोपण किया। बैठक में आई0आई0ए0, अध्यक्ष मोहन बंसल ने जिलाधिकारी व पुलिस उपाधीक्षक को शाॅल भेंट कर स्वागत किया। इस अवसर पर आई0आई0ए0 के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष, जी0एन0 मिश्रा ने जिलाधिकारी व उपस्थित उद्यमियों/अधिकारियों का स्वागत करते हुए कहा कि माह फरवरी, 2020 में जनपद में कार्यभार ग्रहण करने के उपरान्त जिलाधिकारी के कुशल नेतृत्व में जनपद उन्नाव निरंतर बहुआयामी कीर्तिमान स्थापित कर रहा है। विशेष कर उद्योगो में जनपद उन्नाव की उद्योग बन्धु प्रदेश में प्रथम स्थान पर है। जिलाधिकारी के निर्देश पर निवेश मित्र दिवस व समाधान दिवस की एक सर्वथा नवीन पहल जिला उद्योग केन्द्र कार्यालय में स्थापित की गयी है, जहां उद्यमियों की समस्याओं का नियमित समाधान सुनिश्चित किया जा रहा है। पूरे प्रदेश में उन्नाव एकमात्र ऐसा जनपद है, जहां प्रत्येक माह नियमित उद्योग बन्धु बैठक का आयोजन किया जा रहा है तथा स्वयं जिलाधिकारी इस विशिष्ट कोविड-19 संक्रमण कालीन अपनी विशिष्ट व्यस्त दिनचर्या में समय निकालकर उद्यमियों से मिलने और उनकी समस्याओं का पूर्ण समाधान स्वयं करते है। इस हेतु उन्होनें समस्त उद्यमियों की तरफ से जिलाधिकारी का धन्यवाद ज्ञापन किया। इस अवसर पर श्री मिश्रा में पूरे प्रदेश जनपद उन्नाव दूसरे जिला है जहां जिला पंचायत को मानचित्र अनुमोदन का अधिकार प्रदान किया गया है, जो कि जनपद की एक विशिष्ट उपलब्धि है। उन्होनें कहा कि औद्योगिक क्षेत्र में जिला पंचायत द्वारा रू0 01.00 करोड़ से अधिक सड़कों यू0पी0 सीडा द्वारा औद्योगिक क्षेत्र बन्थर, साइट-1 व साइट-2 में रू0 13.00 करोड़ से अधिक तथा ई0ओ0 नगर पालिका द्वारा अकरमपुर में रू0 53.00 लाख से अधिक मूल्य की सड़कों का निर्माण कराया जा चुका है तथा लोक निर्माण विभाग द्वारा वृहद औद्योगिक आस्थान, अकरमपुर में रू0 267.00 लाख के उच्चीकरण का कार्य जिला उद्योग केन्द्र, उन्नाव के माध्यम से आरम्भ कराया जा चुका है। उन्होनें कहा कि विद्युत वितरण खण्ड, द्वितीय द्वारा नेहरूबाग में डेडीकेटेड फीडर का निर्माण कराया गया है जो कि माह जनवरी 2020 से क्रियाशील हुआ है, जिसके द्वारा उद्योगो को 24 घण्टें निर्बाध विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित की जा रही है। इस हेतु श्री मिश्रा ने समस्त विभागों का आभार व्यक्त किया तथा जिलाधिकारी के कुशल नेतृत्व में उनकी टीम निरंतर औद्योगिक विकास हेतु कार्य कर रही है जिसके लिए वे समस्त उद्यमियों की तरफ से आभार व्यक्त करते है। 



बैठक में लोक निर्माण विभाग, वल्र्ड बैंक द्वारा पुरवा में निर्माणाधीन सड़क निर्माण प्रकरण में हो रहे विलम्ब की ओर जिलाधिकारी का ध्यान आकर्षित किया गया। जिलाधिकारी ने उपस्थित अवर अभियंता, पी0डब्लू0डी0 को कठोर चेतावनी देते हुए कहा कि उनके अधिशाषी अभियंता किसी भी बैठक में उपस्थित नहीं होते है यह स्थिति किसी भी प्रकार से स्वीकार्य नहीं है यदि तत्काल मार्ग का अनुरक्षण उचित प्रकार से नहीं किया गया तो अधिशाषी अभियंता सहित समस्त सम्बंधित अधिकारियों के विरूद्ध कार्यवाही हेतु पत्र प्रेषित कर दिया जाएगा। मार्ग नं0-1, एल0टी0पी0 बन्थर के सम्बंध में अधिशाषी अभियंता, यू0पी0 सीडा ने अवगत कराया कि प्रश्नगत् मार्ग हेतु निविदा आमंत्रित की जा चुकी है तथा मार्ग नं0 2 का अनुरक्षण कार्य पूर्ण हो चुका है शीर्घ ही मार्ग नं0-1 का अनुरक्षण कार्य पूर्ण करा दिया जाएगा। प्रश्नगत् मार्ग हेतु निविदा आमंत्रित की जा चुकी है तथा मार्ग नं0 2 का अनुरक्षण कार्य पूर्ण हो चुका है शीर्घ ही मार्ग नं0-1 का अनुरक्षण कार्य पूर्ण करा दिया जाएगा। जिलाधिकारी ने अधिशाषी अभियंता को निर्देशित किया वे प्राथमिकता के आधार पर पूर्ण गुणवत्ता के साथ मार्ग का निर्माण/मरम्मत कार्य पूर्ण करें। 


इस अवसर पर सहायक आयुक्त उद्योग ने अवगत कराया कि निवेश मित्र पोर्टल पर कुल 3356 आवेदन प्राप्त हुए है जिसमें से 2203 स्वीकृत व 388 निरस्त किए गये है। 96 आवेदनों पर विभिन्न सम्बंधित विभागो द्वारा अभिलेख मांगे गये है। 36 आवेदन निर्धारित समय सीमा के अंतर्गत विभागीय स्तर पर विचाराधीन है तथा 634 आवेदन उद्यमियों के स्तर पर लम्बित है। जिलाधिकारी ने सहायक आयुक्त उद्योग को समस्त लम्बित आवेदन पत्रों का नियमित अनुश्रवण करते हुए आख्या प्रस्तुत करने हेतु निर्देशित किया। 


इस अवसर जिलाधिकारी ने अपर मुख्य अधिकारी, जिला पंचायत को निर्देशित किया कि वह नेहरूबाग औद्योगिक क्षेत्र हेतु डी0पी0आर0 बनाकर आगामी जिला उद्योग बन्धु बैठक में प्रस्तुत करना सुनिश्चित करें, ताकि नेहरूबाग औद्योगिक क्षेत्र के सर्वागींण विकास हेतु कार्य आरम्भ किया जा सके। उन्होनें अधिशाषी अभियंता, पी0डब्लू0डी0 व विद्युत विभाग खण्ड-2 को डी0पी0आर0 निर्माण कार्य में जिला पंचायत का पूर्ण सहयोग करने हेतु निर्देशित किया। 



जिलाधिकारी ने उद्यमियों का आभार व्यक्त करते हुए कहा कि उद्योग जनपद उन्नाव की अर्थव्यवस्था का महत्वपूर्ण स्तम्भ है तथा उद्योगों के विकास के बिना जनपद का सर्वागींण विकास सुनिश्चित नहीं किया जा सकता। उद्यमियों की समस्याओं का सुनिश्चित गुणवत्तापूर्ण समयातंर्गत समाधान उनके सर्वोच्च प्राथमिकता बिन्दुओं में सम्मिलित है तथा वे अपने अधिकारियों से अपेक्षा करते है कि वे भी उद्यमियों की समस्या का निरंतर समाधार सुनिश्चित करेगें तथा उद्योगों के संचालन में पूर्ण सहयोग करेगें। 


बैठक के अंत में वरिष्ठ उद्यमी  अशोक कुमार गर्ग ने उद्यमियों के अनुरोध पर आई0आई0ए0 सभागार में जिला उद्योग बन्धु बैठक की स्वीकृति प्रदान करने व अध्यक्षता करने हेतु जिलाधिकारी महोदय का विशेष धन्यवाद ज्ञापन किया। उन्होनें आभार व्यक्त करते हुए कहा कि बैठक में समस्त उद्यमियों की समस्याओं पर व्यापक विचार विमर्श किया गया तथा प्रत्येक उद्यमी की बात सुनी गयी, जिसके लिए वे हदय से जिलाधिकारी के आभारी है। जी0एन0 मिश्रा ने इस अवसर पर कहा कि उद्योग बन्धु फोरम में उद्यमियों की समस्यओं को तत्काल निस्तारण किया जाता रहा है यही कारण है कि इस समय औद्योगिक क्षेत्र में बहुत कम समस्याएं रह गयी है तथा उनमें भी कार्य आरम्भ हो चुका है। 


इस अवसर पर अपर मुख्य अधिकारी, जिला पंचायत  वी0के0 सिंह, अधिशाषी अभियंता, पी0डब्लू0डी0, अजय वर्मा, अधिशाषी अभियंता, विद्युत वितरण खण्ड-द्वितीय, उपेन्द्र तिवारी, आर0ओ0 प्रदूषण, विमल कुमार, अधिशाषी अभियंता यू0पी0 सीडा, बी0डी0 यादव, सहायक आयुक्त उद्योग, रोचना श्रीवास्तव, उपनिदेशक सूचना डॉ मधु ताम्बे, वरिष्ठ उद्यमी,  ए0के0 अग्रवाल, कान्ती मोहन गुप्ता,  ए0के0 महेश्वरी,  संदीप शुक्ला आदि उपस्थित रहें।


Comments