ट्रेजरी कोड बनाने में हुई लापरवाही


रिपोर्ट : निर्णय तिवारी


छतरपुर : संघ का आरोप है कि जिले में अध्यापकों के ट्रेजरी कोड बनाने में संकुलों द्वारा लापरवाही की गई जिसके चलते भी तकनीकी समस्या आई और दो महीनों से वेतन नही मिल सका। जबकि जिले के एकमात्र बकस्वाहा विकास खण्ड में कोड बनाने का कार्य सही समय पर हुआ है जिससे वहां वेतन का भुगतान हो गया।


श्री त्रिपाठी ने बताया कि संकुल और बीईओ कार्यालयों की लापरवाही का खामियाजा अध्यापक भुगत रहे हैं। कोरोना संकट को देखते हुये अध्यापक काफी समय से धैर्य बनाये हुए हैं।लेकिन सब्र की भी सीमा होती है। तीन माह से वेतन न मिलने से भूखों मरने की स्थिति बन रही है। लिहाजा अध्यापकों में भारी आक्रोश है।


Comments