श्रीदेवी अस्पताल का लाइसेंस 31 अगस्त तक रद्द


रिपोर्ट : प्रमोद कुमार


कल्याण : सरकार द्वारा निर्धारित बिल से अधिक बिल वसूलने और मनपा द्वारा नोटिस देने पर कोई संतोषजनक उत्तर नहीं देने के साथ ही मनपा की जांच टीम को कोई सहयोग नहीं करने के चलते कल्याण पश्चिम स्थित श्रीदेवी अस्पताल का लाइसेंस 31 अगस्त तक रद्द कर दिया गया है. मनपा द्वारा श्रीदेवी अस्पताल में प्रशासक की नियुक्ति कर दी गई है, जिससे अन्य अस्पताल संचालकों में भी खलबली मच गई है.  श्रीदेवी अस्पताल में 24 बेड पर जुलाई महीना से ही कोविड मरीजों का उपचार चलने पर भी मनपा को जानकारी नहीं दी. इसके अलावा मनपा द्वारा दिए गए नोटिस का भी उत्तर संतोषजनक नहीं दिया और सरकार द्वारा निर्धारित उपचार की दर से अधिक बिल वसूलने, सरकारी निर्देशों का पालन नहीं करने आदि का दोषी पाए जाने एवं 80% औऱ 20%  बेड स्वतंत्र नहीं रखने और उक्त बेड की मरीजों को जानकारी नहीं देने, मनपा की जांच टीम को सभी बिल जांच के लिए उपलब्ध नहीं कराने, लेखा परिक्षकों को असहयोग करने व असभ्य वर्ताव करने, मनपा द्वारा दिए गए निर्देश का पालन नहीं करने आदि अनियमितता के चलते मुंबई नर्सिंग होम रजिस्ट्रेशन एक्ट 1949 के तहत दी गई. अस्पताल की अनुमति 31 अगस्त 2020 तक या उपरोक्त अनियमितता दूर कर बढ़ी हुई ली गई रक्कम वापस करने जो भी पहले हो, तब तक के लिए अस्पताल का लायसेंस रद्द कर दिया गया है. ऐसा आदेश कल्याण डोंबिवली मनपा के अतिरिक्त आयुक्त सुनील पवार द्वारा जारी किया गया है. उक्त अस्पताल में ओपीडी द्वारा हिमोडायलेसिस करने की अनुमति रहेगी, लेकिन किसी भी प्रकार के नए मरीज उपचार के लिए भर्ती किए जाने पर प्रतिबंध लगा दिया गया हैं. इस आदेश का पालन कराने एवं अन्य भर्ती मरीजों का सही उपचार हो और उनसे सरकारी निर्धारित दर से ही बिल लेने, जबतक सभी मरीज सही होकर डिस्चार्ज नहीं होते,  तब तक अस्पताल प्रशासन पर जरूरी नियंत्रण रखने के लिए  कल्याण डोंबिवली महानगर पालिका की तरफ से वैद्यकीय अधिकारी समीर सरवणकर की  प्रशासक के तौर पर नियुक्ति कर दी  गई हैं ।


Comments