राज करने के बाजये मुंबई करो कि जनसमस्याओं को हल करने पर ध्यान देती हूं : महापौर किशोरी पेडणेकर


मुंबई : मनपा की महापौर किशोरी पेडनेकर अभी हाल ही में लग रहे भ्रस्टाचार के आरोपों , अपने बेटे सागर की कंपनी को वर्ली कोविड सेंटर में मनुषबल आपूर्ति करने का मनपा का ठेका बगैर निवेदिता निकालकर देने से लेकर मुंबई में शुरू सुशांत सिंह राजपूत प्रकारण में दिल्ली से आने वाली सीबीआई को महाराष्ट्र मुंबई में आने के लिये मनपा की इजाजत लेना पड़ेगी जैसा बयान देकर देश भर की राष्ट्रीय राजनीति में सुर्खियां बटोरनी वाली मुंबई की महापौर किशोरी पेडनेकर ने अपने हर विवादित बयान पर टिपणी करने से मना करते हुए कहा कि वर्तमान समय मे देश समेत मुंबई की जनता को चल रही कोरोना महामारी को लेकर सुविधाओं कि जरूरते पूरी करनी चाहिये।


मुंबई रहवासिय क्षेत्र को कैसे कचरे और गंदगी से मुक्त कर कोरोना महामारी से बचाये इसपर ध्यान केंद्रित किया है। जिसके लिये में प्रयत्नशील हूं। मुंबई राहीवासिय क्षेत्र की विभिन्न जनसमस्याओं को लेकर पत्रकार यशपाल शर्मा से बातचीत हुई। पत्रकार के सवाल पर क्या मुंबई के लिये कुछ भी करेगी मनपा ! मुंबई की महापौर का नारा क्या सिर्फ कागजों पर सिमटा था, या जमीनी तौर पर भी इसकी अमल बजवनी होते दिखाई दे रही है, इस पर सवाल पर महापौर किशोरी पेडणेकर ने कहा कि मैंने संपूर्ण कोरोना लॉक डाउन में घर मे नहीं बैठी बल्कि मुंबई करी जनता को कोरोना से बचाने के लिये मुंबई के हर वो सरकारी अस्पतालों में व्याप्त समस्याओं को दूर किया, ताकि मुंबई कर कोरोना से सुरक्षित रहे है। मुंबई की जनता के दिलों में बैठे सरकारी अस्पताल के उस डर को निकालने की कोशिश की, जिसमे मरीजो को सरकारी अस्पताल जाने से मरीज स्वस्थ होने की बाजये उसकी मौत होती है। मुंबई करी जनता के हर सुख-सुविधा के लिये हर जगह मौजूद रही है।


लॉक डाउन में भुखमरी के कगार पर पहुंच चुकी जनता को मनपा ने लॉक डाउन चलने तक मुंबई के 224 वार्डो में खाने के डिब्बों का वितरण करवाने का कार्य किया है। मीडिया के जरिये जैसे जैसे मुंबई की सरकारी अस्पतालों की खामियां मिलती गई उसे मुंबई करो के भय डर से मुक्त सुविधा जनक इलाज की सुविधाओं से लैस करवाया है, अधिक से अधिक कोविड टेस्टिंग, हेल्थ चेकअप कैम्प, मुंबई क्षेत्र और शौचालयों को सैनिटाइज करवाया ताकि मुंबई की जनता कोरोना महामारी से बची रहे। इसके अलावा मुंबई में मूसलाधार बारिश में आये दिन होने वाले जल-जामव की समस्या से कोई एक दिन में लो-लाइंग समतल जमीनो को एक दम से ऊंचाई नही बढ़ाई जा सकती है। इस कार्य मे समय लगेगा। समुद्री तट से लगी मुंबई, हाई टाइड के समय तक उफान पर रहने के कारण जल-जामव बढ़ जाता है जबकि उतारने के बाद मुंबई रहवासिय क्षेत्रों का पानी बहकर निकल जाता है। मुंबई की सड़कों और उसपर बने मेन होलो पर सुरक्षा जालिंयाँ बिछाने का कार्य संपूर्ण रूप से पूरा हो चुका है। वहीं शिवसेना का बहु - प्रतीक्षित कोस्टल रोड का प्रकल्प के कार्य कछुवा गति से चलने को लेकर बताया कि बहुत अच्छी तरह से शुरू है। वहीं मुंबई करी जनता से मुंबई की महापौर किशोरी पेडणेकर ने अनुरोध किया है कि गणेश उत्सव को मनाने के लिये मुंबई कर गणेशउत्सव मंडलो को जारी किये गये कोरोना महामारी गाइड लाइन्स का पालन कर सुरक्षित स्वस्थ रहकर मनाये।


Comments