मटका किंग जिग्नेश ठक्कर उर्फ ​​मुन्ना को फिल्मी अंदाज में गोली मारकर हत्या


रिपोर्ट : प्रमोद कुमार


कल्याण : मटका किंग जिग्नेश ठक्कर उर्फ ​​मुन्ना की शुक्रवार रात (31 जुलाई) को कल्याण रेलवे स्टेशन के पास फिल्मी अंदाज में गोली मारकर हत्या कर दी गई थी।  आरोपी कार में सवार हो आये थे जिसमें तीन-चार लोग मौजूद थे । हमलावरों ने जिग्नेश को अपने कार्यालय से घर जाते समय गोली मार दी।  जिग्नेश ठक्कर पर गोलियां चलाने वाले धर्मेश उर्फ ​​नन्नू शाह, जयपाल उर्फ ​​जापान और दो अन्य अज्ञात व्यक्तियों की तलाश के लिए पांच पुलिस दस्ते भेजे गए हैं।


जिग्नेश ठक्कर के ठाणे, कल्याण, उल्हासनगर क्षेत्र में कई स्थानों पर पॉट और कार्ड क्लब हैं। उन्हें क्रिकेट मैचों पर सट्टा लगाने के लिए भी जाना जाता है।  आरोपी धर्मेश उर्फ ​​नन्नू शाह और उसके गोताखोर जयपाल, और दो अज्ञात लोगो ने रिवाल्वर गोली मारी जो कि सीने और पेट पर पांच राउंड गोलियां चलाईं, जबकि जिग्नेश शुक्रवार रात कल्याण स्टेशन क्षेत्र में नीलम गली में सुयश प्लाजा में अपने कार्यालय के बाहर फोन पर बात कर रहा था। आरोपी और मृतक दोनों दोस्त थे। उनके खिलाफ पुलिस स्टेशन में कई अपराधिक मामले दर्ज किए गए हैं। क्षेत्र में मटका जुआ, घोड़ा जुआ, क्लब और कई अन्य गतिविधियां शुरू की गई थीं। दो दिन पहले, नन्नू शाह को कल्याण पश्चिम के बाजारपेठ पुलिस स्टेशन में शंकर राव चौक पर गिरफ्तार किया गया था।  मित्र चेतन पटेल मय्यत जिग्नेश ठक्कर उर्फ ​​मुनिया के साथ दुर्व्यवहार और मारपीट की गई। दोनों के बीच कुछ वित्तीय विवाद थे।


इस बीच उसके सीने में चार गोलियां दागी गईं। इस  घटना के बाद जिग्नेश को कल्याण के फोर्टिस अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। नन्नू शाह, जयपाल और दो अज्ञात व्यक्तियों के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 302, 34, 506 (2) और भारतीय शस्त्र अधिनियम की धारा 32 (1) 35 के तहत महात्मा फुले चौक पुलिस स्टेशन में मामला दर्ज किया गया है।


Comments