मनपा के निर्देशों का उल्लंघन करने वाले अस्पतालों पर होगी कड़ी कार्रवाई : आयुक्त डॉ. विजय सूर्यवंशी


रिपोर्ट : प्रमोद कुमार


कल्याण : कल्याण डोंबिवली नगर निगम (KDMC) ने निजी अस्पतालों द्वारा कोविड-19 (Covid-19) मरीजों से ली गई अधिक राशि का करीब 51 फीसदी हिस्सा संबंधित मरीजों को लौटा दिया है। नगर निकाय ने बुधवार को यह जानकारी दी। अधिक शुल्क वसूले जाने के संबंध में मिली शिकायतों के बाद केडीएमसी (KDMC) आयुक्त डॉक्टर विजय सूर्यवंशी ने निकाय क्षेत्र के दायरे में कोविड-19 मरीजों का इलाज कर रहे सभी अस्पतालों के लेखा-जोखा जांच का आदेश दिया था। जांच में पाया गया कि कल्याण और डोंबिवली क्षेत्रों के 15 अस्पतालों में इलाज के लिए गए मरीजों से 31.45 लाख रुपये ज्यादा वसूले गए हैं।


केडीएमसी (KDMC) ने एक विज्ञप्ति में कहा कि निगम ने इन अस्पतालों को कारण बताओ नोटिस जारी किया और अब तक इनसे 16.15 लाख रुपये वसूल करके संबंधित मरीजों को धन लौटाया गया है। नगर निगम ने बताया कि उसने कल्याण में एक अस्पताल को 80 फीसदी बिस्तर मरीजों के लिए आरक्षित करने के निर्देश का उल्लंघन करने के संबंध में कारण बताओ नोटिस जारी किया। नगर निकाय ने निर्देशों का उल्लंघन करने वाले अस्पतालों पर कड़ी कार्रवाई करने की चेतावनी दी है और कहा है कि उनका लाइसेंस तक रद्द हो सकता है।


Comments