कोरोना इंजेक्शन की कालाबाजारी का आरोप, विधायक का स्पष्टीकरण


हमारे नेता अप्पा शिंदे से माफी माँगे अन्यथा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई : सुधीर वडार पाटिल 


रिपोर्ट : प्रमोद कुमार


कल्याण : कल्याण कोरोना के गंभीर मरीजों को दी जाने वाले टोसिलीजुनाब (एक्टीमेरा) इंजेक्शन की काफी कमी है, परंतु लक्ष्मी डिस्ट्रीब्यूटर में इसकी ब्लैक की जा रही है यह आरोप शैलेश तिवारी ने सोशल मीडिया पर लगाया है। लक्ष्मी डिस्ट्रीब्यूटर व अमेय फार्मेसी राकांपा विधायक जगन्नाथ (आप्पा) शिंदे की हैं। उन पर यह आरोप लगाया गया है। जगन्नाथ शिंदे ने कहा है कि उक्त आरोप उनका चरित्र हनन के इरादे से लगाया गया है जो झूठा है। आरोपी को इसकी शिकायत एफडीए से करनी चाहिए थी सोशल मीडिया पर नहीं आरोपी के आरोप बदनामी के लिए लगाये गये हैं। ऐसा कहते हुए जगन्नाथ शिंदे ने बताया कि 24.8.2020 को अन्न व औषधि प्रशासन ने उनकी लक्ष्मी डिस्ट्रीब्यूटर व अमेय फार्मेसी की जांच की है तथा कोई कालाबाजारी नही हुई यह निर्णय दिया है। श्री शिंदे ने कहा कि वे 40 साल से देश व राज्य स्तर पर समाज सेवा कर रहे हैं तथा आरोपी के खिलाफ पुलिस में शिकायत व कोर्ट में दावा करेंगे।


जिला अध्यक्ष एनसीपी यूथ कांग्रेस (कल्याण-डोंबिवली) सुधीर वडार पाटिल ने कहा है कि शैलेश तिवारी किसके इशारे पर बदनामी कर रहे हैं ये देखना होगा। खुद को प्रसिद्ध बनाने के लिए झूठा आरोप कर रहे है। राष्ट्रवादी युवा कांग्रेस की आक्रामकता को जानते हैं। इसलिए उन्हें सार्वजनिक रूप से हमारे नेता अप्पा शिंदे से माफी माँगे अन्यथा उनके खिलाफ कानूनी कार्रवाई की जायेगी।


Comments