एक जोरदार बारिश होने से उपयंत्री का यह भ्रष्टाचार पानी मे डूब जाता है, ग्रामीण बोले ऐसे जिम्मेदारों पर कार्रवाई होना जरूरी


उपयंत्री ने तालाब खुदाई का कर दिया फर्जी मूल्यांकन सीईओ के मौके पर निरीक्षण करने से खुली पोल वही बारिश न होने से तालाब में नही भरा पानी इसलिए  मूल्यांकन से बहुत कम काम होने का मामला सामने आया


रिपोर्ट : निर्णय तिवारी


लवकुश नगर : जनपद पंचायत क्षेत्र के ग्राम पंचायतों में मनरेगा के तहत चल रहे निर्माण कार्यो में किस तरीके से फर्जीवाड़ा हो रहा है यह किसी से छिपा नही है उपयंत्री अपने -अपने सेक्टरों में फर्जी मूल्यांकन कर सरकारी राशि का बंदरबाट कर रहे है मिली जानकारी के अनुसार जनपद क्षेत्र के सेक्टर क्रमांक 2 के अंतर्गत ग्राम पंचायत रगौली में मनरेगा योजना से सार्वजनिक तालाब में कार्य कराया गया है उपयंत्री विनीत भारती ने उक्त तालाब में कम खुदाई की मात्रा को ज्यादा बताकर करीब पौने पांच लाख का फर्जी मूल्यांकन कर दिया जबकि मौके पर ढाई लाख की खुदाई भी नही हुई है जनपद सीईओ एसके मिश्रा द्वारा मौका स्थल निरीक्षण के दौरान पाए गए काम और उपयंत्री द्वारा किए गए मूल्यांकन में आधे का अंतर पाया जनपद सीईओ ने मौका पंचनामा तैयार कर उपयंत्री के खिलाफ अग्रिम कार्रवाई करने की बात कही है।


बारिश न होने से नही भरा तालाब इसलिए उपयंत्री के कारनामे की पोल खुली


समूचे क्षेत्र में मानसून रुठ जाने से तालाब पोखर सूखे पड़े है उपयंत्री ने बारिश का अनुमान लगाते हुए खुदाई का फर्जी मूल्यांकन कर दिया उपयंत्री ने तालाब खुदाई का पौने पांच लाख साथ ही खुदाई के दौरान निकली मिट्टी का परिवहन और पडल बनाये जाने में 1.92 लाख की राशि का खर्च बताकर करीब 7.84 लाख रुपये का फर्जी मूल्यांकन कर डाला बारिश न होने से उपयंत्री के इस कारनामे का खुलासा हुआ है ग्राम विकास के लिए आई मनरेगा की राशि खुर्दबुर्द हो जाने से ग्रामीणों में रोष व्याप्त है ग्रामीणों ने उपयंत्री के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराए जाने की मांग की है 


रोजगार सहायक  फर्जी भुगतान की फाइल लेकर जनपद कार्यालय पहुँचा तब मामले का खुलासा हुआ


ग्राम पंचायत रगौली में पदस्थ रोजगार सहायक शिवनदन अहिरवार द्वारा तालाब खुदाई के नाम पर परिवहन और पडल के कार्य के नाम पर तैयार किए गए दस्तावेजो की फाइल जनपद कार्यालय लेकर पहुँचा  जनपद कार्यालय में मौजूद कर्मचारियों को शंका हुई इसके बाद जनपद सीईओ ने स्थल परीक्षण की बात कहकर फाइल को रोक दिया और जनपद सीईओ ने निरीक्षण के दौरान तालाब खुदाई के नाम पर उपयंत्री द्वारा फर्जी मूल्यांकन किया जाना पाया गया। 


इनका कहना है


जनपद सीईओ लवकुशनगर एसके मिश्रा का कहना है कि ग्राम पंचायत रगौली में मनरेगा योजना के तहत तालाब खुदाई में उपयंत्री द्वारा फर्जी मूल्यांकन किए जाने का मामला सामने आया है। इस कार्य मे सचिव और रोजगार सहायक भी शामिल है। दोषियों के खिलाफ विभागीय कार्रवाई प्रस्तावित की जाएगी।
 



 

Comments