BHU के साऊथ कैम्पस के पूर्व OSD प्रो आरपी सिंह अलविदा बोल अदृश्यलोक गए












कैम्पस के पेड़-पौधों से आंसू टपकते देखा जा सकता है

रिपोर्ट : सलिल पांडेय


मीरजापुर, (उ0प्र0) : दु:खदाई खबर आई कि BHU के कृषि विज्ञान के पूर्व निदेशक एवं राजीव गांधी साऊथ कैम्पस में 2014 से 2016 के मध्य विशेष कार्याधिकारी (OSD) रहे प्रोफेसर आर पी सिंह (70) मंगलवार के दिन दुनियां को अलविदा बोलकर अदृश्य लोक में चले गए। यह जानकारी दूरभाष पर उनके कार्यकाल में PRO रहे दृग्विन्दुमणि सिंह ने जब दी, तब उनका सहज, सरल और सौम्य चेहरा आंखों में सजीव-सा हो गया।


साउथ कैम्पस की हरियाली उनके प्रकृति-प्रेम की निशानी है। कोई इन पेड़ों से जाकर कहें कि प्रो सिंह को वैश्विक महामारी ने चपेट में ले लिया तो पेड़ कोरोना के प्रति आक्रोश व्यक्त करते दिखाई देंगे तो इन पेड़ों से आंसू के बून्द टपक पड़ेंगे। सिर्फ पेड़ो की बोली से जो परिचित होगा, वही यह समझ सकेगा।

 

साऊथ कैम्पस उनके लिए महामना के BHU की तरह पुत्रवत था। कैसे इस कैम्पस का ध्वज लहराए, इसके लिए उनका मन हर पल लहराता रहा ।

 

कई बार उन्होंने मुझे भी गेस्ट लेक्चर के लिए आमंत्रित किया। वे चाहते थे कि मालवीय जी के ससुराल से शोध-परक पत्रिका निकले, जो किन्हीं कारणों से नहीं संभव हो सका ।

 

उनके निधन की सूचना पर साऊथ कैम्पस ही नहीं बल्कि जिले के प्रबद्ध लोग आहत दिख रहे हैं। दिवंगत आत्मा की शांति की कामना लगातार की जा रही है।




















 





 









 











Comments