Unnao : 6 वर्ष की बच्ची ने अपनी मां की मृत्यु का खोला राज, बच्ची की नानी ने एसपी से लगायी न्याय की गुहार


रिपोर्ट : तनवीर खान 


उन्नाव, (उ0प्र0) : ग्राम शाहपुर थाना असोहा जनपद उन्नाव के लोभी ने अपने ही घर में अपनी पत्नी को ही मौत के घाट उतारा बात करते है हम फूलमती पत्नी स्व0 शत्रोहन निवासी ग्राम शाहपुर थाना असोहा जिला उन्नाव की एक बेवा बेसहारा गरीब पीड़िता है पीड़िता ने अपनी पुत्री आसनी का विवाह श्री बाबू पुत्र देशराज निवासी त्रिपुरारिपुर थाना पुरवा जिला उन्नाव के साथ शादी पूर्व 7,8 साल लगभग हुई थी अपनी हैसियत के अनुसार दान दहेज भी दिया था परन्तु दामाद श्री बाबू पुत्र देशराज व श्री बाबू की मां श्रीमती रामदुलारी पत्नी देशराज व बाबू के बड़े भाई राजू, राकेश, रमेश व महेश पुत्रगण देशराज आसनी से खुश नहीं थे कहते थे की मोटर साइकिल तो दे दी है परन्तु एक लाख रुपया नगद नही दिया जिसकी वजह से परिवार के सभी लोग आसनी को तरह तरह से प्रताडित करते थे आये दिन मार पीट कर घर से भगा देते थे आसनी यह सोच कर हर दुख झेलती थी की आगे चलकर सब ठीक हो जायेगा इसी बीच आसनी के श्री बाबू के संसर्ग से तीन बच्चे कुमारी जानवी उम्र करीब 6 वर्ष, राजा उम्र करीब 3 वर्ष दिव्या उम्र करीब एक साल पैदा हुई जो जीवित है आसनी को मारते पीटते थे तथा आसनी के मैके झूटी खबर भेज देते थे कि तुम्हारी पुत्री ने आत्महत्या कर ली है।



इसी बीच लगभग एक माह पूर्व जब श्री बाबू अपनी ससुराल पहुंचे अपनी पत्नी आसनी के साथ और अपनी सांस कहा की 53000 / -रू 0 हम पर कर्जा है देना है वरना वह लोग हमे जान से मार देगे इस बात को ने भी कहा कि दरवाजे पर वह लोग  गालियां व धमकी देते है कही से उधार व्यौहार लेकर दे दो मम्मी वर्ना इनकी जान का खतरा है तो आसनी की मां ने खेती बेचकर 53000 / - रू दे दिया आसनी के नाम पर 10 विसुवा पटटा आवंटन किया था ग्राम प्रधान सुमित देवी ने दिनांक 20.07.2020 को श्री बाबू आसनी को अपने घर त्रिपुरापुर विदा करा कर ले गया तथा रात को श्रीबाबू ने अपने चारो भाई राजू, राकेश रमेश, महेश व माता श्रीमती रामदुलारी की मदद से जान से मार कर फंदे पर लटका दिया तथा कहा कि आसनी ने आत्म हत्या कर ली है तथा मोहल्ले वालो ने आसनी के मृत्यु की दूसरे दिन खबर दी जब आसनी की मां फूलमती गांव तीपुरारपुर पहुंची तो वहां उसकी पुत्री की लाश को पुलिस ले गयी जब फूलमती थाना पुरवा उन्नाव गयी तो वहां पर पता चला कि उन्नाव सदर अस्पताल पोस्ट मार्टम के लिये गयी है जब मां फूलमती पोस्ट मार्टम हाउस गयी तो वहां मां फूलमती की पुत्री आसनी की लाश नहीं मिली पता करने पर पता चला कि आसनी की मृत्यु शरीर को दामाद श्री बाबू को दे दी गयी जिससे तुरन्त क्रिया करम करवा दिया जाए।



आसनी की मां व परिवार को मृत्यु शरीर भी नहीं दिखाया गया तथा थाना पुरवा की पुलिस ने कोई भी पत्र पर उपरोक्त लोगो के विरूद्ध कोई कानूनी कार्यवाही नही की फूलमती अपनी पुत्री के नाबालिग बच्चो को लेकर दर दर भटक रही है जब कवरेज करते हुए पत्रकारों ने मृत्यु आसनी की मासूम बच्ची जानवी उम्र लग भग 6 वर्ष से पूछा आपकी मम्मी को क्या हुआ तो उसने अपने पिता श्री बाबू को बताया और बताया कि रात में मेरी मम्मी को मेरे पापा ने डंडों से मार और मम्मी के खून निकल रहा था सर से मेरी मम्मी को मेरे पापा ने मार डाला है आसनी की मां फूलमती दर दर जाकर इंसाफ की गुहार लगा रही है परन्तु कोई सुनवाई नही हो रही है तथा न्याय मिलने की आस से आज दिनांक 22/07/2020 को पीड़ित मां फूलमती,रिश्तेदार व ग्राम निवासियों ने मिलकर पुलिस अधीक्षक महोदय के दरवाजे पर पहुंचकर इंसाफ की गुहार लगाई अब देखना यह है कि गरीब परिवार को कहा तक न्याय मिलता है।


Comments