नजफगढ़ पुलिस ने एक साल से भगोड़े कुख्यात मुजरिम को कंट्री मेड पिस्तौल व जिंदा कारतूस सहित दबोचा


रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया


दिल्ली : नजफगढ़ पुलिस के एएसआई रामवीर सिपाही दीपक, करण को एक कुख्यात-भगोड़े आरोपी के बारे में सूचना मिली सूचना के आधार पर नजफगढ़ एसीपी विजय सिंह के दिशा-निर्देशानुसार एसएचओ सुनील कुमार की अगुवाई में तुरंत कार्यवाही के आदेश देते ही पुलिस टीम ने छापेमारी करते हुए कुख्यात भगोड़े आरोपी को कंट्री मेड पिस्तौल (देसी-कट्टा) एक जिंदा कारतूस सहित पुराना रोशनपुरा से दबोच लिया।



द्वारका उपायुक्त अंटो अलफोंस अनुसार काफी दिनो से फरार चल रहे पकड़े गए आरोपित का नाम लोकेश उर्फ लीला उम्र (28) जो नजफगढ़ के ओल्ड रोशनपुरा निवासी है। पुलिस रिकॉर्ड मुताबिक पकड़े गए भगोड़े मुजरिम पर पहले से बिंदापुर, बाबा हरिदास नगर, नजफगढ़ थाने में फायरिंग, आर्म्स एक्ट के तीन मामले दर्ज है। पकडा गया कुख्यात अपराधी एक साल पहले छावला केस मामले मे कोर्ट से भगोड़ा मुजरिम था। नजफगढ़ पुलिस द्वारा आर्म्स-एक्ट तहत मामला दर्ज कर आरोपी से आगे की गहन-तफ्तीश जारी है। इस तरह नजफगढ़ पुलिस ने कई एक साल से फरार हुए भगोड़े कुख्यात अपराधी को पकड़ सतर्क व सराहनीय कार्य शैली को दिया अंजाम।


Comments