मुठभेड़ में तीन कुख्यात मुजरिम गिरफ्तार, पुलिस कमिश्नर द्वारा वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इनामी राशि सहित किया गया सम्मानित


रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया


दिल्ली : जिला द्वारका पुलिस की स्पेशल स्टाफ टीम जेल-बेल रीलिज सेल व द्वारका नॉर्थ की ज्वांइट टीम द्वारा मिलकर एक बड़े एनकाउंटर मे तीन कुख्यात-अपराधी जिसमें दो को जाल बिछाकर पुलिस  मुठभेड़ में धरपकड करके मौके से मुजरिमों से तीन सोफिस्टिकेटेड पिस्तौल चार पिस्तौल मैगजीन व अठारह जिंदा कारतूस बरामद करते हुए  (हरियाणा) तीन-मर्डर केस (द्वारका जिला) ज्वेलर्स-शोरूम पर सरेआम तीन बार गोलाबारी करते हुए धमकी देकर जबरन वसूली,(हरियाणा)मे हत्या की कोशिश,एक कार जैकिंग मामले सहित दस केसो का एक साथ खुलासा करके एक उच्च-दर्जे की बड़ी कामयाबी को हासिल करते हुए समस्त-दिल्ली पुलिस के लिए बखूबी तौर पर,काबिले-तारीफ कार्यशैली को दिया अंजाम,कम समय में जाँबाजी भरे बहादुरी कारनामे को मद्देनजर रखते हुए दिल्ली पुलिस कमिश्नर एस.एन श्रीवास्तव ने पुलिस जवानों की हौसला-अफजाई हेतु जिला द्वारका विशेषकर स्पेशल-स्टाफ व ज्वांइट-टीम को इस उपलब्धि के लिए द्वारका डीसीपी ऑफिस में स्पेशल-स्टाफ जाँबाज-इंस्पेक्टर नवीन कुमार,एसआई रंजीव त्यागी,एसआई बिजेंद्र,एसआई मनजीत,एएसआई उमेश एएसआई सुरेंद्र,हवलदार अशोक हवलदार सुमित,सिपाही परवीन सिपाही राजूराम,सिपाही संदीप और एनकाउंटर दौरान बुलेट-प्रूफ जैकेट पहने दो सिपाही कलभूषण और सिपाही संदीप द्वारा आदम रक्षा में की गई जवाबी फायरिंग मे   दोनों मुजरिमों के घुटनों पर गोली लगने के बाद हुई धरपकड और दोनों सिपाहियों की बुलेट-प्रूफ जैकेट पर लगी गोलियों से हुए बचाव को देखते उनको सिपाही रैंक से तब्दील कर हवलदार-रैंक प्रमोशन देते हुए दस लोगों की टीम को ईनामी राशि दस हजार कैश वीडियो कांफ्रेंसिग के जरिए पुलिस कमिश्नर एस.एन श्रीवास्तव की मौजुदगी मे द्वारका-उपायुक्त अंटो अलफोंस के हाथो इनामी-राशि व अवार्ड देते हुए सम्मान सहित पुरस्कृत किया गया ।


Comments