Mumbai : कोरोना के मरीजों से नफरत नहीं सहानभूति रखिए, ओ भी इंसान हैं - सोनू झा


सोसायटी या चॉल में कोरोना मरीजों से नफरत करने वालों से अपील है इनसे घृणा न करे - राहुल गायकवाड


रिपोर्ट : अनिता शुक्ला/फिरोज शेख


मुंबई : मुंबई से सटे मीरा भायंदर में कोरोना मरीजों की संख्या दिन प्रति दिन बढ़ती ही जा रही है, प्रति दिन नये कोरोना केस  से लोग डरे हुए हैं मरीजों की बढ़ोतरी के कारण इलाकों में भय का माहौल बना हुआ है , यही कारण है कि यदि सोसायटी में या चॉल में एक भी कोरोना मरीज की भनक लगती है तो स्थानिक रहवासियों में बहुत ज्यादा डर का माहौल हो जाता है कोरोना वायरस का डर इस कदर हावी हो गया है कि जैसे ही पता चलता है कि सोसायटी में या चॉल में कोई भी ब्यक्ति कोरोना से संक्रमित हुआ है तो लोग अपने ही पड़ोसी या दोस्त से नफरत करने लगते हैं घृणा करते हैं ।



मीरा भायंदर स्थित न्यू स्टार सोसायटी में बहुत ही सुंदर उदाहरण देखने को मिला है उक्त सोसायटी में रहने वालों ने लोगों ने समाज को एक बहुत अच्छा संदेश दिया है न्यू स्टार सोसायटी के सेक्रेटरी सोनू झा जो कि एक सामाजिक कार्यकर्ता हैं और भारतीय जनता पार्टी के युवा प्रदेश अध्यक्ष भी हैं उन्होंने बताया कि कोरोना बीमारी से ठीक हो गए ब्यक्ति को नफरत नहीं सहानुभूति की जरूरत होती है हम सबका दायित्व बनता है कि उस ब्यक्ति का सहारा बने। राहुल गायकवाड शिवसेना नेता हैं और सामाजिक कार्यकर्ता भी है सामाजिक कार्यों में हमेशा अग्रणी भूमिका निभाई है और बिना किसी जात पात या नाम पूछे बगैर अपनी सेवा देते हैं, उन्होंने कहा कि कोरोना बीमारी से ठीक होकर आए ब्यक्ति को या उनके परिवार को घृणा नहीं प्यार की जरूरत होती है, क्योंकि वह हमारे सोसायटी का हिस्सा होते हैं। सोनू झा और राहुल गायकवाड़ ने पूरे देश से अपील किये कि यदि आपके सोसायटी में या चॉल में  कोई ब्यक्ति कोरोना बीमारी से ठीक होकर आता है तो उससे  और उसके परिवार से नफरत और घृणा मत करिए बल्कि उनका सहारा बनिये ,यही मानव धर्म है।


Comments