Mirzapur : नकली शराब बनाने वाली फैक्ट्री व गैग का पर्दाफाश


बड़ी मात्रा में नकली शराब बनाने का सामग्री व शराब बनाने वाले आधा दर्जन गिरफ्तार, चार फरार


रिपोर्ट : बृजेश गोंड


मिर्जापुर, (0प्र0) : थाना को0 देहात,स्वाट/एस0ओ0जी0 व आबकारी की संयुक्त टीम की कार्यवाही में नकली/अपमिश्रित शराब बनाने वाली फैक्ट्री व गैग का पर्दाफाश, कुल 4400 लीटर शराब बनाने का केमिकल (स्प्रिट) तथा 446 लीटर तैयार अपमिश्रित शराब कुल कीमत (स्प्रिट सहित) करीब 10 लाख व बनाने के उपकरण 02 पैकिंग मशीन सहित भारी मात्रा में खाली शीशी, ढक्कन, नकली लेबल, बार कोड़, जरिकेन, ड्रम, कलर केमिकल व 3 कार, 1  ई-रिक्शा व शराब बिक्री का 23 हजार रुपये नगद बरामद (कुल बरामदगी की कीमत करीब 27 लाख 75 हजार रुपये) तथा आधा दर्जन गिरफ्तार व आरोपी फरार है।


बुधवार को पुलिस लाइन के सभागार में आयोजित पत्रकार वार्ता में पुलिस अधीक्षक डॉ धर्मवीर सिंह द्वारा पत्रकारों को उक्त जानकारी पुलिस अधीक्षक द्वारा बताया गया कि वरिष्ठ अधिकारियों के निर्देशन में अवैध मादक पदार्थों के निर्माण विपणन व तस्करी के विरुद्ध चलाये जा रहे अभियान के क्रम में इलेक्ट्रानिक व धरातलीय अभिसूचना संकलन कर थाना को0 देहात, स्वाट व एस0ओ0जी0 तथा आबकारी की संयुक्त टीम द्वारा बड़ी कार्यवाही करते हुए मंगलवार को सांय काल लगभग साढ़े छः बजे थाना कोतवाली देहात अंतर्गत पाण्डेयपुर लठियहवा मुहल्ला स्थित राकेश गुप्ता के गौशाला में छापेमारी कर वहां स्थित कमरे में चल रही अपमिश्रित/नकली शराब की फैक्ट्री का पर्दाफाश किया गया। जिसमें 80 ड्रम में कुल 4400 लीटर  स्प्रिट, नकली व अपमिश्रित शराब भरी ब्लू लाइम व विंडिज की शीशी-2233 नकली रैपर ब्लू व लाइन -11770, बार कोड़-9002, खाली शीशी-2720, ढक्कन-19030, शराब बनाने में प्रयुक्त रंग (कलर) केमिकल -750 मिली लीटर, 10 किग्रा यूरिया, एक जरिकेन में 20 लीटर अपमिश्रित शराब, 55 लीटर के 10 खाली ड्रम, शराब पैकेजिग के 200 लीटर के 2 खाली ड्रम, 2 पैकेजिग मशीन तथा शराब तस्करी में प्रयोग की जा रही चार पहिया वाहन कार इन्जवाय, सेन्ट्रों कार, महेन्द्रा एक्सयूवी 300 व 1 ई-रिक्शा निला कलर बिना नंबर के बरामद किए गए।


पुलिस अधीक्षक ने बताया कि आरोपी राकेश  गुप्ता, संतोष यादव, संजय मौर्या, धीरज कुमार मौर्या, राजेन्द्र कुमार मौर्या व विन्ध्यवासिनी उर्फ लालू कसेरा को गिरफ्तार किया गया तथा मौके से अनूप कुमार मालवीय उर्फ टाइगर, राकेश कुमार गुप्ता, पंकज कुमार मौर्या, कमलेश कुमार मौर्या फरार हो गये। उन्होंने बताया कि उक्त के संबंध में थाना कोतवाली देहात पर धारा 60/60क/63/72 आबकारी अधिनियम व  419, 420, 255, 256, 467, 468, 471, 272 भा0द0वि0 पंजीकृत किया गया। एसपी ने बताया कि गिरफ्तार हुए आरोपीयों से विस्तृत पूछताछ में यह स्पष्ट हुआ की अवैध अपमिश्रित शराब बनाने में प्रयुक्त स्प्रिट मगाने का कार्य व मुख्य निवेश अनुप कुमार मालवीय उर्फ टाइगर पुत्र श्रीनारायण मालवीय निवासी बसनही बाजार थाना को0शहर व राकेश कुमार गुप्ता निवासी रतनगंज थाना को0 कटरा का है। स्प्रिट के स्त्रोत की जानकारी अनूप व राकेश को ही है, यह स्प्रिट वर्तमान समय में बंद डीसीएम वाहन से रात्रि में आता था तथा हरबार डीसीएम वाहन व उसके चालक, खलासी अलग-अलग होते थे।



निर्माण हेतु प्रयुक्त स्थान राकेश प्रसाद गुप्ता का है व फरार पंकज कुमार मौर्या व कमलेश कुमार मौर्या मिलकर स्प्रिट से नकली/अपमिश्रित शऱाब, पानी व केमिकल मिलाकर तैयार करना, सील करना, पैकेजिंग व विपणन हेतु परिवहन/सप्लाई का काम करते है। यह कार्य करीब दो वर्षो से विभिन्न स्थान बदल-बदल करतें रहे है। इसके पूर्व यह कार्य ए0वी0सी0 फैक्ट्री के पीछे स्थित ग्राम नकहरा थाना को0 देहात का अनूप मालवीय के मकान एवं उसी के को0 शहर स्थित मकान तथा संजय मौर्या के घर अरगजा पाण्डेय थाना विन्ध्यांचल से बदल बदल कर करते रहे।  पाण्डेयपुर लठिहवा मुहल्ला के केशव गुप्ता के गौशाला में करीब एक माह से उक्त कार्य प्रारम्भ किये थे। तैयार शराब की तथा स्प्रिट की सप्लाई आरोपी संजय मौर्य के सगे भाई कमलेश मौर्या के नाम पंजीकृत वाहनों दो इन्जवाय कार, एक एक्सयूवी 300 तथा एक स्कार्पियों  से एवं विन्ध्यवासिनी कसेरा के सेन्ट्रो कार व ई रिक्शा से मीरजापुर में विभिन्न स्थानों सक्तेशगढ़, गैपुरा, नारघाट तथा जनपद के बाहर प्रयागराज में कोरांव, हाता बाजार, माण्डा, जनपद सोनभद्र के मारकुण्डी पहाड़ी आदि स्थानों पर करते थे। उपरोक्त स्थानों से कुछ लोग आकर स्प्रिट ले भी जाते थे।


पुलिस अधीक्षक ने बताया कि गिरफ्तार हुए आरोपीयों ने बताया की 50 लीटर स्प्रिट में 40 लीटर पानी मिलाकर  90 लीटर बनाते है। जिसे कलर देने के लिए रंग केमिकल का इस्तेमाल करते है व तीव्रता के लिए थोड़ी मात्रा यूरिया भी मिलाते है और एक शीशी 200 एमएल की बाजार में 65-70 रुपये की मिलती है। इन्हे सील पैक कर नकली ब्लू लाइन व विडिंज का रैपर व बारकोड़ लगाकर कार्टून में पैक कर विभिन्न देशी शराब दुकानों पर कम दामों में सप्लाई करते है। स्प्रिट का एक 50 लीटर का ड्रम 8-10 हजार रुपये तक का बिकता है। आरोपियों ने बताया  ब्रिकी से मिला धन अनूप व राकेश के पास जमा होता है, व सबके योगदान के अनुसार धन का वितरण होता है। और इसी धन से जीविकोपार्जन करते है एवं उपयोगी सामान व प्रापर्टी खरीदते है। देशी शराब की दुकानों की छानबीन एवं गिरफ्तारी की कार्यवाही प्रचलित है।


गिरफ्तार हुए आरोपीयों में शहर कोतवाली क्षेत्र का 41 वर्षीय राकेश गुप्ता पुत्र पारसनाथ निवासी पसियान गली महुवरिया, दुसरा आरोपी देहात कोतवाली क्षेत्र के छितपुर का निवासी 29 वर्षीय संतोष यादव पुत्र चन्द्रिका यादव, तीसरा आरोपी विन्ध्याचल कोतवाली क्षेत्र अरगजा पांडे निवासी 21 वर्षीय संजय मौर्या पुत्र रामसनेही मौर्या, चौथा आरोपी देहात कोतवाली क्षेत्र नकहरा निवासी व वर्तमान पता अदलाहाट थाना क्षेत्र के अंतर्गत शिवपुर सबसे कम उम्र का 19 वर्षीय धीरज कुमार मौर्य पुत्र राजेन्द्र कुमार व पांचवा आरोपी उसका पिता 50 वर्षीय राजेन्द्र कुमार मौर्य पुत्र बचाऊ तथा छठवां आरोपी शहर कोतवाली क्षेत्र के बसनही बाजार निवासी 34 वर्षीय विन्ध्यवासिनी उर्फ लालू कसेरा पुत्र दिनेश प्रसाद को गिरफ्तार किया गया है। वहीं एक फरार हुए आरोपी में शहर कोतवाली क्षेत्र के बसनही बाजार का निवासी अनूप मालवीय उर्फ टाइगर पुत्र श्रीनारायण मालवीय, राकेश गुप्ता निवासी रतनगंज थाना को0 कटरा, कमलेश उर्फ बिन्दु पुत्र रामसनेही मौर्या निवासी अरगजा पाण्डेय थाना विन्ध्यांचल, पंकज मौर्या पुत्र राजेन्द्र मौर्या निवासी नकहरा थाना को0 देहात स्थायी पता शिवपुर थाना अदलहाट शामिल हैं।


गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली टीम पुलिस टीम थाना कोतवाली देहात पुलिस के प्रभारी  निरीक्षक  अभय कुमार सिंह, उ0नि0 विनोद कुमार यादव, उ0नि0 राम दयाल सिंह, उ0नि0 विष्णु प्रभा सिंह, का0 सूरज कुमार, का0 अरविन्द कुमार, का0 राहुल प्रताप सिंह, का0 चालक रामदुलार यादव, एस0ओ0जी0 टीम के प्रभारी निरीक्षक व उनके सहयोगियों में विनोद कुमार यादव, का0 लालजी यादव, का0 अजय यादव, का0 मनीष सिंह, का0 चालक भूपेन्द्र यादव, स्वाट व सर्विलांस टीम के प्रभारी उ0नि0 रामस्वरूप वर्मा उनके सहयोगियों में उ0नि0 जयदीप सिंह,  कांस्टेबल राजेश यादव, का0 भूपेन्द्र सिंह, का0 विरेन्द्र कुमार सरोज, का0 राज सिंह राणा, का0 बृजेश सिंह, का0 रविसेन सिंह, का0 संदीप राय, का0 नितिन सिंह, का0 आशुतोष सिंह, का0 मिथिलेश यादव और आबकारी टीम में निरीक्षक प्रथम क्षेत्र के प्रमेचन्द्र क्षेत्र निरीक्षक चतुर्थ क्षेत्र के पुष्पेन्द्र कुमार व उनके सहयोगियों में हे0का0 रमेश कुमार मौर्या, हे0का0 राजबहादुर, का0 अनवर मसुद सिद्दकी, आ0 चालक बसन्तलाल का योगदान सराहनीय रहा उक्त गिरफ्तारी व बरामदगी करने वाली पुलिस टीम को 20 हजार रूपये से पुरस्कृत किया गया।


Comments