Mirzapur : लायंस क्लब द्वारा काशी हिन्दू विश्वविद्याय के प्रांगण में ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन


रिपोर्ट : बृजेश गोंड/कमलेश मौर्या


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : कारगिल विजय दिवस के उपलक्ष्य में 27 जुलाई 2020 को लायंस क्लब द्वारा बरकच्छा स्थित काशी हिन्दू विश्वविद्याय के प्रांगण में ब्लड डोनेशन कैंप का आयोजन किया गया। इस आयोजन में रिटायर्ड मिलिट्री ऑफिसर कॉलेज के प्रोफेसर और वहां के कर्मचारियों ने मिलकर 40 यूनिट ब्लड डोनेट किया।



इस अवसर पर कॉलेज की प्रोफेसर इंचार्ज डीन प्रोफ़ेसर रामा देवी निमन पल्ली ने भी अपना ब्लड डोनेट किया। प्रोग्राम में कारगिल विजय के समय प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से कार्यरत 10 सैनिक भी आमंत्रित थे। आप सैनिक लोगों के अदम्य साहस के लिए उनको सम्मानित किया गया। कार्यक्रम की मुख्य अतिथि के रूप में प्रोफेसर इंचार्ज रामादेवी निम्मन पल्ली थी तथा इसकी अध्यक्षता लायंस क्लब मिर्जापुर के अध्यक्ष लायन अनिल बरनवाल ने किया और संचालन सचिव लायन नितिन अग्रवाल ने किया।



इस कार्यक्रम में मुख्य रूप से लायन शुभम अग्रवाल, लायन बीना बरनवाल, रामकुमार, कृष्णानन्द, मिर्जापुर जिला हॉस्पिटल के ब्लड बैंक के डॉ व पदाधिकारी तथा बीएचयू कैंपस के बहुत से स्टाफ सम्मिलित थे। कार्यक्रम बीएचयू कैंपस के व्याख्यान संकुल में सोसल डिस्टेंसिंग को ध्यान रखते हुए दूर दूर बैठकर कराया गया।



कार्यक्रम के अंत में अनिल बरनवाल ने मुख्य अतिथि का आभार व्यक्त करते हुए कहां कि हम चाहेंगे की भविष्य में लायन वाद के सेवा के सिद्धांतों के लिए और उनको अपने जीवन में लेने के लिए वहां के छात्रों को भी एक अवेयरनेस प्रोग्राम के लिए हमें समय दें जिस पर मुख्य अतिथि ने अपना पूरा आश्वासन देते हुए कहा कि हम लायन के सेवा कार्यों से अति प्रभावित हैं उन्होंने यह भी कहा की रक्तदान ऐसा चीज है जिसे केवल मनुष्य ही अपने व्यक्तिगत रूप से किसी को दान कर सकता है।


Comments
Popular posts
‘श्रीयम न्यूज नेटवर्क’ की प्रतियोगिता ‘मां की ममता’ का परिणाम घोषित, आलेख वर्ग में रीता सिंह तो काव्य वर्ग में अंजू जांगिड़ ने मारी बाजी
Image
रिपब्लिकन पार्टी के कार्यकर्ताओं को दुध एल्गर आंदोलन में शामिल होना चाहिए - केंद्रीय राज्य मंत्री रामदास आठवले
Image
बाल विकास विभाग की कारगर योजनाओं से ही कुपोषण से मिला मुक्ति, 2668 केन्द्रों पर पौष्टिक आहार के लिए बच्चों, महिलाओं व किशोरियों में आ रही जागरूकता
Image
एण्डटीवी के ‘येशु’ में कौन होगा शैतान का अगला शिकार?
Image
विश्व पीसीओएस जागरूकता माह : जरूरी है जागरूकता, बचाव एवं समय पर उपचार
Image