Mirzapur : दूसरे दिन 98 बंदी जेल में संक्रमित, जाँच हुई पूरी, 3 बैरकों में ही हुए आइसोलेट


BHU जैसी जांच जिले में हुई शुरू


रिपोर्ट : सलिल पांडेय


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : हाहाकार मचाता जिला जेल में कूदा कोरोना 172 लोगों को अपने जाल में फांस कर पूरे प्रशासन की कड़ी परीक्षा लेने पर उतर आया है। कैसे इन्हें सम्हाल कर रखा जाए, यह एक बड़ी चुनौती बनी हुई है। विचाराधीन बंदी होने के कारण इन्हें बिना कोर्ट के आदेश के जेल के बाहर नहीं रखा जा सकता लिहाजा तीन बैरकों में सारे पॉजीटिव 174 बंदियों को रखना पड़ रहा है।


मंगलवार के 74 तो बुधवार के 98 बंदी पॉजीटिव - मंगलवार को जेल में 74 बंदी पॉजीटिव हुए तो बुधवार को 98 पॉजीटिव हो गए। इन्हें जेल के बाहर नहीं रखने की बाध्यता के कारण बैरक नम्बर 8, 9 एवं 10 में ही रखा जा रहा है। बुधवार को सबको आइसोलेट कर दिया गया।


मामला तो जटिल है - जिला जेल में बंदियों के रखने की निर्धारित संख्या 332 है लेकिन इसमें कुल 671 बंदी इन दिनों है। ओवरलोड के कारण इन्हें एक से डेढ़ मीटर के डिस्टेंस पर ही रखना पड़ रहा है। यद्यपि इनके लिए भोजन आदि के लिए बर्तन अलग कर दिए गए हैं। जेलकर्मी पीपीई किट पहन कर उन्हें भोजन, चाय देने जा रहे हैं । ताकि अन्य बंदी संक्रमित न होने पाए।


एक अच्छी खबर कोरोना के मामले में - इस बीच एक सकारात्मक प्रयास DM सुशील कुमार पटेल एवं CMO डॉ ओपी तिवारी का यह रहा कि अब RT-PCR  मशीन की जांच मिर्जापुर मंडलीय अस्पताल में ही शुरू हो गई। मंगलवार, 28 जुलाई को 10 कोरोना से हो चुके टेस्ट BHU से मंगा कर यहां भी किए गए। दसों की रिपोर्ट BHU से मेल खाते हुए रही तो प्रशासन और चिकित्सा विभाग खुशी से उछल पड़ा। फिर 20 टेस्ट 29 जुलाई को भी किए गए। इसके लिए लखनऊ से दो महिला बायोलाजिस्ट यहां आ गई हैं । कुछ दिनों में सारे टेस्ट यहीं होने लगेंगे।


बुधवार की रिपार्ट में दुर्गादेवी से 58 साल की महिला, घण्टाघर से 47 साल का व्यक्ति, भदोही से 3, चुनार से 2, जिगना से 3, गुरुसंडीसे 3 और अस्पताल से एक के साथ 98 संक्रमित लोगों की लिस्ट जारी हुई है।


Comments
Popular posts
सीएम उद्धव ठाकरे ने पूरे राज्य के लोगो को अगले 8 दिन सतर्क रहने को कहा है--वरना लॉक डाउन लगाने के संकेत भी दे दिए है
Image
आपसी विवाद में युवक घायल, मामला रफा-दफा करने मे जुटी थी पुलिस
Image
दादरा और नगर हवेली से लोकसभा सदस्य मोहन डेलकर मुंबई के एक होटल में पाए गए मृत, गुजराती में लिखा सुसाइड नोट बरामद
Image
बाल विकास विभाग की कारगर योजनाओं से ही कुपोषण से मिला मुक्ति, 2668 केन्द्रों पर पौष्टिक आहार के लिए बच्चों, महिलाओं व किशोरियों में आ रही जागरूकता
Image
महाराष्ट्र से कर्नाटक आने वालों को बिना कोरोना रिपोर्ट देखे एंट्री की गई बन्द !
Image