Mirzapur : दहेज़ पीड़ित महिलाओ को मिले भरण पोषण की धनराश


मुख्यमंत्री को अधिवक्ता अमित जायसवाल ने रजिस्टर्ड डाक से भेजा ज्ञापन


रिपोर्ट : तुषार विश्वकर्मा


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : प्रत्येक जनपद के पारिवारिक न्यायालय मे चल रहे महिलाओ के भरण पोषण के मुकदमे मे वर्तमान समय मे कोई कार्यवाही न होने की वजह से महिलाओ को भरण पोषण को लेकर काफी परेशानियां चल रही है। इसे देखते हुए अधिवक्ता अमित जायसवाल ने रजिस्टर्ड डाक के माध्यम से मुख्यमंत्री को ज्ञापन भेजा है।


अपने ज्ञापन में अधिवक्ता अमित जायसवाल बताया है कि प्रत्येक जनपद के पारिवारिक न्यायालय मे चल रहे महिलाओ के भरण पोषण के मुकदमे मे वर्तमान समय मे कोई कार्यवाही न होने की वजह से महिलाओ को भरण पोषण की धनराशि नहीं मिल पा रही है। जिससे दहेज़ जैसी कुप्रथा से लड़ने वाली महिलाओ के सामने जीविकोपार्जन की समस्या उत्पन्न हो गयी है। ये महिलाये पूरी तरह से भरण पोषण की धनराशि पर निर्भर रहती है तथा आय का कोई अन्य स्रोत नहीं है, ना ही इस समय कोई कार्य ही कर सकती है तथा कोरोना जैसी वैश्विक महामारी के चलते न्यायालय कब सुचारु रूप से चलेगा यह स्पष्ट नहीं है। ऐसी स्थिति मे इन दहेज़ पीड़ित महिलाओ को 5000 रुपया प्रतिमाह या जो भी सरकार उचित समझे, जब तक न्यायलय की कार्यवाही सुचारु रूप से ना चले तब तक दिया जाना चहिए, जिससे इन महिलाओ को सम्मान पूर्वक जीवन यापन कर सके। श्री जायसवाल ने इस ज्ञापन से उच्च न्यायालय को भी भेज कर अवगत कराया है।


Comments