महाराष्ट्र के तमाम धार्मिक स्थल खोलने के लिए उध्धव ठाकरेजी को बिंनती : हार्दिक हुंड़िया


अंग्रेजो के शासन में भी मूर्ति पूजा अंग्रेजो ने भी नहीं रोकी थी


मुंबई : शहर को मायानगरी नहीं परतुं माँ मयी नगरी की उपमा देने वाले और धर्म को जीवन में प्रथम स्थान पर रखने वाले परम घर्म प्रेमी हार्दिक जी हुंडिया कहते है की मुंबई शहर तीन माता के गर्भ में पलने वाला शहर है। माता महालक्ष्मी, माता मुंबादेवी, माता जीवदानी सदैव मुंबई नगरी की रक्षाकवच बनकर रक्षा करती है। ऐसी परम पवित्र नगरी के महाराष्ट्र के अन्य नगरों के धार्मिक स्थल के दरवाजे खोले जाये, ऐसा एक विनती भरा खत महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धवजी ठाकरे को हार्दिक हुँड़िया ने लिखा है।


हार्दिक हुँड़िया ने कहा की उद्धव ठाकरे ने राजनीति में वो करिश्मा कर दिखाया है जो कोइ भी राजनेता कभी सोच भी नहीं सकते? विरोधीओ को गले लगाकर के आप महाराष्ट्र में जिस तरह से शासन चला रहे है। यह देश के इतिहास में सुवर्ण अक्षरों से लिखा जाएगा। परम वंदनिय राजप्रेमी के साथ साथ धर्म प्रेमी श्री बाला साहेब ठाकरे के अनमोल संस्कारो का सींचन और आपके अनमोल कार्य देश को नज़र आ रहे है। आप एक धर्म प्रेमी परिवार से हो। आप से दो हाथ जोड़कर बिंनती है की आप महाराष्ट्र के सभी मंदिरो के दरवाज़े खुलवाकर देश को एक अनमोल संदेश दिजिये की भगवान के दरवाज़े कैसा भी भयानक रोग आ जाये लेकिन अब बंद नहीं रहेंगे।


देश को आज़ादी दिलाने में हमारे परम आदरणीय श्री लोकमान्य तिलकजी को याद करीए, हमारे दुःख दूर करने वाले दादा गणपति दादा के नाम पर लोगों को इकट्ठा किया और देश को आज़ादी दिलाने में उनका कीतना बड़ा योगदान है और हमारे वंदनिय दादा गणपती जी की मूर्ति का है। हार्दिक हुँड़िया ने कहा की हमारे देश पर शासन करने वाले अंग्रेजो ने भी वंदनिय दादा गणपतीजी के नाम पर हो रहे पूजा पाठ को कभी नहीं रोका था। हम तो हिंदू है, हमारा शासन है फिर हम क्यों भगवान के मंदिर बंध रखे ? आदरणीय उध्धव साहब, आप सोचो यदि हमारे दुःख दूर करने वाले दादा गणपतीजी की मूर्ति का हम सब को अंग्रेजो की ग़ुलामी से विजय दिलाने में इतना बड़ा हाथ है तो फिर उनके दरवाज़े बंध क्यों ? हम सभी के आस्था के प्रतीक है भगवान के मंदिर। आप से नम्र निवेदन है कि मंदिर, मस्जिद, गुरद्वारा, चर्च कोई भी धार्मिक स्थल अब बंध ना रहे, यह सब तो दुःख दूर करने वाले आस्था और भगवान की भक्ति का स्थान है। हार्दिक हुँड़िया कहा है कि उद्धवजी नेतृत्व में महाराष्ट्र को नई ताक़त और नई दिशा मिली है।


Comments