चोरी व लूटपाट मामले में भगोड़े कुख्यात अपराधी को कंट्री-मेड पिस्तौल व जिंदा कारतूस सहित दबोचा


रिपोर्ट : अनीता गुलेरिया


दिल्ली : बाहरी जिला उपायुक्त डॉ ए.कोन उनकी कमांड में हथियारबंद कुख्यात-अपराधियों पर हो रही धरपकड़ के चलते पुलिस को राजधानी पार्क इलाके में एक सदिंग्ध व्यक्ति हथियार सहित किसी वारदात को अंजाम देने के इरादे से घूमने की सूचना मिलते ही ऑप्रेशन एसीपी विरेंद्र कदयान के दिशा-निर्देशानुसार स्पेशल स्टाफ इंस्पेक्टर अजमेर सिंह की अगुवाई में एसआई प्रदीप कुमार, एएसआई राजकुमार, धर्मवीर, भारतभूषण, रामकिशन, हवलदार वीरेंद्र राठी, कृष्ण, सिपाही दिलीप व नागलोई पुलिस के एसआई सुनील, एसआई परमिंदर और हवलदार कपिल की संयुक्त टीम ने बिना समय गवाएं तत्परता से जाल बिछाकर घेराव करते हुए कुख्यात भगोड़े-आरोपी को कंट्री मेड पिस्तौल (देसी-कट्टा) व जिंदा कारतूस बरामद करते ही पुलिस हिरासत में ले लिया।



बाहरी जिला उपायुक्त डॉ ए.कोन अनुसार पकड़े गए अभियुक्त की पहचान संतोष बहादुर थापा उम्र (30) राजीव नगर गुरुग्राम हरियाणा निवासी, जो पीछे गांव सोरेख काठमांडू नेपाल से है। इस पर पहले से चोरी धोखाधड़ी, आर्म्स व एनडीपीएस एक्ट के इक्कीस मामले दर्ज हैं। पुलिस पूछताछ में आरोपी ने अपना गुनाह कबूलते हुए बताया वह गाड़ी चलाता था, लेकिन कम समय मे ज्यादा पैसा कमाने के चक्कर में वह 2003 से चोरी लूटपाट इत्यादि करने लग गया था। बता दे, यह कथित अपराधी आए दिन चोरी लूटपाट के मामलो मे कई बार जेल जा चुका है और बेल पर बाहर आकर फिर से चोरी लूटपाट जैसी वारदातों को अंजाम देने लग जाता था। पुलिस द्वारा आर्म्स एक्ट तहत मामला दर्ज कर आरोपित से आगे की गहन-तफ्तीश जारी है।


Comments