Unnao : झोलाछाप डॉक्टरों की भरमार, बगैर डिग्री धड़ल्ले से हो रहा इलाज


रिपोर्ट : तनवीर खान


उन्नाव, (उ0प्र0) : जिले मे झोलाछाप डॉक्टरों की बाढ़ सी आ गयी है लगभग हर गांव गली मे बैठकर बड़ी निर्भीकता के साथ इलाज कर रहे है। कई बार ऐसे मामले भी आये है जिनमे मरीज की जान भी चली गयी लेकिन इन गाँव गली मे बैठे इन डॉक्टरों पर आखिर कोई कार्यवाई क्यों नही होती है।


इनमे से कुछ तो ऐसे भी डॉक्टर है जो डिग्री/डिप्लोमा किसी दूसरे का है और इलाज कोई दूसरा कर रहा है। फिर जिले के स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों द्वारा इन पर कार्यवायी नही होती है।


मामला उन्नाव जिले के पुरवा तहसील के पाठकपुर गांव का है यहाँ पर एक बिना नेम प्लेट /बोर्ड के एक क्लीनिक संचालित है । जिसमे पंकज माली नाम के डॉक्टर द्वारा ईलाज किया जाता है किंतु इन डॉक्टर साहब के पास न तो कोई डिग्री है और न ही कोई डिप्लोमा है अगर डिग्री भी है तो किसी दूसरे की।


सूत्रों के अनुसार क्लीनिक पर प्रतिदिन सैकड़ो लोगो का इलाज किया जाता है लेकिन कोविड 19 महामारी के दौरान भी यहाँ पर आने वाले मरीजों के लिए न तो मास्क की बाध्यता है, और न ही सोशल डिस्टेंसिग का पालन। थर्मल स्कैनिंग की भी कोई व्यवस्था नही थी दवाईयों को तो कूडे के ढेर मे जैसे रख रखा था क्लीनिक के अंदर गंदगी का भी अंबार लगा हुआ था।


Comments