तंबाकू खिलाने पर कार्रवाई : सीएमओ


- सतर्कता : स्वास्थ्य विभाग के परिसर के लिए जारी हुआ निर्देश, 


- कोरोना संक्रमण से बचने के लिए जारी हुआ निर्देश


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : कोविड -19 के संक्रमण से बचाव के लिए हर दिन नए निर्देश जारी हो रहे हैं। इसी क्रम में मुख्य चिकित्साधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के परिसर में संक्रमण से बचने के लिए खास दिशा – निर्देश जारी किए हैं। इसके तहत परिसर में तंबाकू का आदान-प्रदान अपराध माना जाएगा। साथ ही हर कर्मचारी को हर एक घंटे बाद साबुन से 40 सेकंड तक हाथ धोने की भी सलाह दी गई है।


मुख्य चिकित्साधिकारी ने बताया कि चिकित्सालय और जिलास्तरीय सामुदायिक /प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों पर कार्य प्रारम्भ हो गया है। इस दौरान कोविड-19 का संक्रमण बढ़ने की आंशका बनी रहेगी। इसलिए इस सम्बन्ध में प्रमुख सचिव अमित मोहन प्रसाद ने सभी जनपद के लिए खास दिशा निर्देश दिया है। सीएमओ ने बताया कि कार्यालय एवं चिकित्सालयों के प्रवेश द्वार एवं अन्य भीड़भाड़ वाले स्थानों पर नियमित रूप से एक - एक घण्टे के अन्तराल पर हाथ धोते रहे। परिसर में आने वाले अपने हाथों को अवश्य धुलें। साथ ही हर कमरे के बाहर साबुन/सैनिटाइजर रखे जाएं। कार्यालयों, स्वास्थ्य केन्द्रों और अस्पतालों में आने वाले लोगो की थर्मल स्क्रीनिंग की जाए। यदि आने वाले लोगों में किसी भी व्यक्ति को खासी, बुखार अथवा सांस फूलने आदि की कोई समस्या है तो उसका प्रवेश वर्जित कर दिया जाए। स्वास्थ्य केन्द्रों पर छुई जाने वाली वस्तुएं जैसे डोर नाब्स, गेट, कुंडी आदि को लगातार सैनेटाइजर करें। इसके अलावा कार्य में आने वाले औजारों व उपकरणों को यदि साझा किया जा रहा है तो उसकी भी बराबर सैनेटाइजर होना चाहिए। 


ऐसे करें बचाव


यदि कोई मजदूर कार्यालय या आवासीय क्षेत्र में काम करें तो ध्यान रखें वहां सूर्य की रोशनी हो। सभी मजूदर सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। कार्य करने वाले कर्मचारियों/मजदूरों को हमेशा मास्क या गमछा या दुपट्टा अवश्य प्रयोग करें। कार्य करने वाले कर्मचारी व स्वास्थ्य कर्मी किसी भी दशा में तंबाकू का आदान-प्रदान न करें और सार्वजनिक स्थल पर पान मसाला, पान, गुटखा का सेवन नही करना चाहिए। इसके अलावा थूकने का भी कार्य न हो। यदि स्वास्थ्य कर्मियों को किसी भी प्रकार छींकते व खांसते समय सभी को साफ रुमाल अथवा कुहना से मंह को अवश्य ढकें। अपने मुंह को बार-बार न छुंए। क्योंकि वायरस इन्ही रास्तों में शरीर में प्रवेश करने का काम करता है। फिर यदि किसी को बुखार, खांसी और /सांस लेने में कठिनाई हो रही है तो तुरन्त डाक्टर का परामर्श लेने का कार्य करें या हेल्पलाइन नंम्बर 1800-180-5145 पर सम्पर्क करना चाहिए। कार्यालयों व चिकित्सालयों में गर्भवती महिलाओं और छोटे बच्चों को आने नही देना चाहिए। यदि कोई व्यक्ति कोरोना पांजिटिव पाया जाता है तो व्यक्ति जहां पर रह रहा हो या कार्य कर रहा हो तो उस मकान को पूरी तरह से 24 घंटे के लिये बन्द कर देना चाहिए। कोई कर्मचारी यदि किसी से 15 मिनट से ज्यादा समय तक सम्पर्क में हो तो उसे 14 दिन के लिये क्वारेन्टाइन में रखा जाना चाहिए।


Comments