Mumbai : शिवाजीनगर मानखुर्द विधानसभा क्षेत्र की गलियों में धड़ल्ले से बिक रहा है नशीला पदार्थ और गुटका


लॉक डाउन में बड़ी संख्या में, क्षेत्र के अच्छे घरों के लड़के नशे की लत के हो रहे है शिकार


मुंबई : शिवाजीनगर-मानखुर्द क्षेत्र में नशीले पदार्थो व गुटका तस्करी बढ़ने से क्षेत्र के देवनार, शिवाजीनगर, मानखुर्द पुलिस स्टेशनों की गालियों में बिक रहा है नशीला पदार्थ और गुटका। जिसके कारण  शिवाजीनगर- मानखुर्द विधानसभा क्षेत्र नशीले पदार्थो की तस्करी का प्रमुख केंद्र बन चुका है।सूत्रों के अनुसार पूर्व में जहां नशीले पदार्थो का तस्करों को पुलिस ने बड़े पैमाने पर पकड़ा था। वहीं लॉक डाउन के दौरान मानखुर्द मंडाला फायर ब्रिगेड के पास साकिब सुपारी का 16 लाख का प्रतिबंधित तंबाकू, सुपारी से भरी गाड़ी पकड़ने में मानखुर्द पुलिस ने एक गुप्त सूचना के आधार पर पकड़ने में कामयाब हुई थी। गुटका माफिया का माल पकड़े जाने पर, क्षेत्र के गुटका माफियाओं और नशीले पदार्थ की तस्करी करने वालो के बड़े पैमाने पर झोपड़ियो में गोदाम है जो पुलिस के पहुंच से दूर है, उसमे छुपाने में कामयाब है।


कहा जाता है कि पुलिस की बढ़ती नाकेबंदी के कारण कसती नकेल ने नशा माफियाओ को भी नशीले पदार्थो की तस्करी करने का तरीका बदल दिया है। पूर्व मे जहां सब्जी भाजी में नशीले पदार्थ, गुटका सब्जी भाजी की गाड़ियों में छुपाकर आती थी। वहीं वर्तमान में नशीला पदार्थ और गुटका, कचरे के डंपरों गाड़ियों के जरिये कचरे में छुपाकर देवनार डंपिंग ग्राउंड में कचरे के बीच पलटी करते है। जहां पर पहले से मौजूद नशे की तस्करी करने वाले असमाजिक तत्व सुुुबह 6 बजे  पहुंचकर, वहां से छोटी-छोटी गाड़ियों, टेंपो में पोटला भरकर जाते है। वहां से पान की दुकान-दुकान गुटका व नशीला पदार्थ स्कूटी के जरिये पहुंचाया जाता है।गुटके और नशीले पदार्थ की तस्करी में टेम्पो और स्कूटी का उपयोग बड़े पैमाने पर होने के चलते क्षेत्र में लॉक डाउन में युवाओं में नशेड़ियों की संख्या में इजाफा देखने को मिल रहा है।


Comments