Mirzapur : कोविड से बचने के लिए मास्क लगाना आवश्यक - डा0 अजय


मास्क अपना ही लगाये दूसरो का मास्क लगाना घातक


रिपोर्ट : टी0सी0विश्वकर्मा


मिर्जापुर, (उ0प्र0) : कोविड-19 के इस वैश्विक महामारी पिछले दो माह से जिले में अपना धीरे-धीरे गांव समेत नगर में भी अपना पाव पसारना शुरू कर दिया है। इसलिए घर से बाहर निकलते समय मास्क का प्रयोग अवश्य करना चाहिए और इस परिस्थिति में अगर कोई व्यक्ति दूसरे के मास्क का प्रयोग करता है तो वह अत्यन्त खतरनाक हो सकता है जिससे इस कोरोना वायरस को मात देना अत्यन्त कठिन हो जायेगा।


अपर मुख्य चिकित्साधिकारी/जिला सर्विलांस अधिकारी डा0 अजय ने जिले बढ़ते कोरोना वायरस के मरीज को देखते हुए लोगो से अपील किया है कि कोरोना वायरस को हराने के लिए जब भी घर से बाहर निकले तो मास्क अवश्य लगाने का कार्य करें। संक्रमण से बचने के लिए व दूसरों को बचाने के लिए जब भी भीड़भाड़ वाले इलाकों में निकलने का काम करें तो चेहरे पर मास्क अवश्य लगाये। स्वास्थ्य विभाग ने जिले में सर्वे कराया है जिसमें सामने आया कि जिले की केवल 65 प्रतिशत आबादी की मास्क पहनने का कार्य कर रही है।


कोविड संक्रमण एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति आसानी से फैल सकता है। मास्क पहनने से किसी संक्रमित व्यक्ति से हवा में मौजूद थूक के माध्यम से कोरोना वायरस श्वसन तंत्र में प्रवेश करने की संम्भावना कम हो जाती है। अगर व्यक्ति द्वारा सही तरीके से मास्क पहना जाये तो वायरस का शरीर के अन्दर जाने की सम्भावना अत्यन्त कम हो जाता है।


अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा0 नीलेश श्रीवास्तव ने बताया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन के मुताबिक मास्क प्रभावी तभी होता है। जब मास्क के प्रयोग करने के साथ ही साथ साबुन या पानी से बार-बार हाथों को धोना चाहिए। जो लोग मास्क का प्रयोग कर रहे है तो उनको जानना चाहिए कि मास्क को किस प्रकार से निस्तारित करना चाहिए। मास्क पहनने समय आवश्यक बातमास्क को पहनने से पहले अपने हाथों को अच्छें तरीके से धोने का कार्य करें। जो मास्क आप पहने वे आपके पूरे मुंह व नाक को अवश्य ढके चेहरे पर कही भी खाली जगह न बचें। मास्क को उल्टा करके कभी न पहनें। उसको दुबारा प्रयोग करने से पहले अच्छी तरह से घोकर अवश्य सूखा लें। सार्वजनिक स्थानों पर एक दूसरे व्यक्ति से एक मीटर की दूरी अवश्य बनाये रखे। चेहरे से हटाते समय रखें आवश्यक बातों का ध्यान मास्क को सदैव उसकी डोरी पकड़कर ही उतारें और तत्काल उसको साबुन के घोल में डाल दें। मास्क हटाने के बाद अपने हाथों को 40 सेकेण्ड तक धोयें। अगर कपड़े का मास्क प्रयोग कर रहे हैं तो उसको धोने के साथ सेनेटाइजर करें।


आमतौर पर मास्क तीन प्रकार के होते है। सर्जिकल मास्क एन-95 मास्क और घर में बने सूती कपड़े का मास्क । इसके अलावा डिस्पोजेबल मास्क को कभी न धोएं न ही प्रयोग करने के बाद उसकेा बन्द कूड़ेदान में डाले। घर पर बने सूती कपड़े के दुबारा प्रयोग किये जाने मास्क को धोने के बाद ही उसका प्रयोग करना चाहिए।


Comments